गहलोत सरकार ने खोया विश्वास, नैतिकता के आधार पर दें इस्तीफा
गहलोत सरकार ने खोया विश्वास, नैतिकता के आधार पर दें इस्तीफा
राजस्थान

गहलोत सरकार ने खोया विश्वास, नैतिकता के आधार पर दें इस्तीफा

news

चितौड़गढ़, 23 जुलाई (हि.स.)। राजस्थान में वर्तमान में चल रहे माहौल को लेकर चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी ने राज्य सरकार पर हमला बोला है। सांसद जोशी ने कहा है कि रिसोर्ट में चलने वाली इस सरकार को अब नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे और जनता के बीच जाना चाहिए। सांसद जोशी ने गुरुवार को मीडिया से बातचीत के दौरान प्रदेश की गहलोत सरकार से इस्तीफा मांगा हैं। सांसद जोशी ने कहा कि सरकार छोटे-छोटे कालखंड में ही रिसोर्ट में है। अभी हाल ही में राज्यसभा के चुनाव में भी सरकार के सभी विधायक होटल में इकट्ठा हुए थे। अभी वापस एक जगह इकट्ठा हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि जस्थान में वर्तमान में कहीं हत्याएं हो रही है तो कहीं कुकर्म हो रहे हैं। बिजली के दामों को सरकार बेतहाशा बढ़ा रही है। कोरोना के संकट से राजस्थान जूझ रहा है। ऐसे में भी राजस्थान की जनता की सेवा करने के बजाय सरकार एक रिसॉर्ट में बैठी है। वहीं फाइलें निपटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नैतिकता के आधार पर सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए। अगर आपके पास जनमत नहीं है। आप जनता का विश्वास खो चुके हैं। अपने विधायकों का विश्वास खो चुके हैं तो सरकार को इस्तीफा देकर जनता के बीच में जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की योजनाएं नहीं होती तो देश भर में व राजस्थान में शायद त्राहि-त्राहि मच गई होती। इस कोरोना काल में भी सब लोगों के खातों में पैसे डालने का काम हो, अनाज देने का काम हो, दाल देने का काम हो, हेल्थ सेक्टर में हो या एजुकेशन सेक्टर में, चाहे डीएमएफटी के माध्यम से हो या खोया अभी नरेगा के माध्यम से या आत्मनिर्भर भारत योजना के माध्यम से हो। लाखों-करोड़ों लोगों को इस योजना के माध्यम से लाभान्वित होने का मौका मिला है। उन्होंने कहा कि रेहड़ी पटरी वाले से लेकर दूध उत्पादन किसान से लेकर छोटे उद्योगों तक के लोगों को एक बड़ा सुनहरा अवसर है कि वह इस आत्मनिर्भर अभियान से जुड़कर देश को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ मुल्क बनाने में सभी लोग सहभागी बने। हिन्दुस्थान समाचार/अखिल/ ईश्वर-hindusthansamachar.in