क्रिसमस पर्व पर हुई चर्चों में विशेष प्रार्थना सभा
क्रिसमस पर्व पर हुई चर्चों में विशेष प्रार्थना सभा
राजस्थान

क्रिसमस पर्व पर हुई चर्चों में विशेष प्रार्थना सभा

news

अजमेर, 25 दिसम्बर(हि.स.)। प्रभु यीशु के आगमन का पर्व मसीह समाज के लोगों ने हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस अवसर पर अजमेर शहर के सभी प्रमुख चर्चों में विशेष प्रार्थना सभाओं का आयोजन सरकार द्वारा जारी कोविड गाइड लाइन की पालना करते हुए मनाया। इस अवसर पर चर्चाें में घंटों की गूंज के बीच प्रीस्ट सुनाया और मसीह समाज के लोगों ने चर्च में मोमबत्तियां जलाकर प्रभु यीशु के जन्म की खुशियां मनाते हुए एक दूसरे को बधाई व शुभकामनाएं दी गईं। विशेष प्रार्थना सभा के दौरान लोगों ने प्रभु यीशु के आदर्श गुणों को अपनाने का संकल्प लिया। अजमेर के सभी चर्चों में विशेष सजावट कर विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। प्रार्थना सभा में कोरोना से मुक्ति और देश में खुशहाली की कामना की गई। इस दौरान पादरियों ने मिस्सा बलिदान के कार्यक्रम किए जिसमें सैकड़ों मसीही धर्मावलंबी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ शामिल हुए। रात को कफ्र्यू के चलते इस बार शाम को ही प्रभु यीशु के जन्म का क्रिसमस पर्व मना लिया गया। सैकड़ों की संख्या में चर्चों में पहुंचे मसीही समाज के लोगों ने कोरोना गाइड लाइन की पालना करते हुए पर्व को मनाया। आगरा गेट चर्चा में प्रार्थना सभा आयोजित हुई जहां लोगों ने सोशल डिस्टेंस के साथ प्रभु यीशु की अराधना की और उनके संदेशों को आत्म सात किया इसके बाद सभी ने एक दूसरे को क्रिसमस पर्व की बधाईयां दी। मसीह समाज के लोगों ने एक दूसरे के घरों में जाकर भी पर्व मनाया। कोरोना महामारी के चलते इस बार शहर में कोई बड़ा धार्मिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया। सिर्फ चर्चों में प्रार्थना सभाएं कर घरों में ही पर्व मनाया। सैंट एंसलम स्कूल स्थित चर्च में शाम विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन हुआ। इस मौके पर गौशाला में प्रभु यीशु के जन्म का चित्रण किया गया। बिशप पायस डिसूजा ने प्रभु यीशु को लेकर विशेष पूजा अर्चना की। सभी मसीह धर्मावलंबियों ने प्रभु यीशु के समक्ष पापों से मुक्ति की कामना की। वहीं बिशप ने बाइबिल की आयतें पढ़कर सुनाई। इसी तरह लगभग सभी चर्चों में विशेष प्रार्थना सभा और प्रभु यीशु के जन्मोत्सव का पर्व क्रिसमस धूमधाम से मनाया गया। कब्रिस्तान में जाकर दिवंगत पूर्वजों पर चढ़ाए फूल क्रिसमस पर्व के अवसर शुक्रवार सुबह चर्चों में विशेष प्रार्थना सभा के बाद मसीह समाज के एक दूसरे से मिले और मैरी क्रिसमस की शुभकामनाएं दी इसके बाद अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति की प्रार्थना के लिए कब्रिस्तान पहुंचे। शांतिपुरा स्थित रॉबसन मेमोरियल सिमेट्री, आदर्श नगर, परबतपुरा सहित शहर के विभिन्न कब्रिस्तानों में बड़ी संख्या में पहुंचे ईसाई समुदाय के लोगों ने अपने पूर्वजों की कब्र पर फूल माला, पुष्प, गुलदस्ते चढ़ाकर उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना की और उनसे परिवार में खुशहाली का आशीर्वाद लिया। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष/ ईश्वर-hindusthansamachar.in