कोरोना जैसी चुनौती में भी सरकार ने नीचे तक पहुंचाया योजनाओं का लाभ - खाचरियावास
कोरोना जैसी चुनौती में भी सरकार ने नीचे तक पहुंचाया योजनाओं का लाभ - खाचरियावास
राजस्थान

कोरोना जैसी चुनौती में भी सरकार ने नीचे तक पहुंचाया योजनाओं का लाभ - खाचरियावास

news

उदयपुर, 20 दिसम्बर (हि.स.)। प्रदेश के परिवहन एवं सैनिक कल्याण व जिला प्रभारी मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा है कि जनकल्याण व राहत के लिए सरकार ने बहुत सारी योजनाएं चला रखी है, इनकी जानकारी सबको हो और इसका लाभ नीचे तक पहुंचे, यही सरकार की मंशा है। कोरोना जैसी चुनौती के बावजूद सरकार ने ठेठ नीचे तक आम आदमी को योजनाओं का लाभ पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। प्रभारी मंत्री खाचरियावास ने गहलोत सरकार के कार्यकाल के दो वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में रविवार को उदयपुर जिला परिषद सभागार में विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली तथा जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन किया। इसके बाद हुई प्रेसवार्ता में उन्होंने राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। उन्होंने केन्द्र सरकार को घेरते हुए कहा कि किसान बिल के विरोध पर सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के बावजूद केन्द्र की मोदी सरकार किसानों के साथ बैठकर बात करने के बजाय बिल को सही बताए जा रही है। उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार को उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने वाली सरकार बताया। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने इसे भी गहलोत की उपलब्धि बताया कि मोदी-शाह की जोड़ी ने कई राज्यों में सरकारों का उलटफेर किया, लेकिन राजस्थान में वे सफल नहीं हो सके। पायलट के भविष्य के सम्बंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि सभी का भविष्य उज्ज्वल है। डूंगरपुर में पंचायत चुनाव में जिला प्रमुख चुनाव के दौरान भाजपा-कांग्रेस के बीच हुए गठबंधन पर किए गए सवाल पर उन्होंने कहा कि यह स्थानीय स्तर पर हुआ, निर्दलीयों ने निर्दलीयों को वोट दिया, इस पर जो भी सोचना है वह संगठन स्तर पर सोचा जाएगा। इससे पूर्व, जिला समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि कार्यालयों में पेंशन योजनाओं का लाभ लेने, प्रमाण पत्र बनवाने या और कोई छोटे-मोटे काम के लिए आने वाले लोगों को विभागीय योजना का लाभ दिलाने के लिए एक खिड़की बनानी चाहिए जहां पर मौजूद व्यक्ति उसकी समस्या के समाधान कर सके। उन्होंने कहा कि किसी भी पीड़ित को उसकी समस्या के समाधान का रास्ता बता दो तो इससे बड़ा पुण्य का कार्य कोई नहीं है। प्रभारी मंत्री ने यह भी कहा कि जनसमस्याओं के समाधान के लिए यदि किसी अधिकारी-कर्मचारी के पास कोई और भी सुझाव हो तो उसके बारे में जानकारी दें ताकि उस पर कार्यवाही हो सके। बैठक दौरान कलेक्टर चेतन देवड़ा ने जनता के कार्यों को घर पर बैठकर सुलझाने के लिए यूआईटी आपके द्वार कार्यक्रम तथा नगर निगम द्वारा सोलिड वेस्ट मेनेजमेंट के लिए तैयार संयत्र के बारे में जानकारी दी तो प्रभारी मंत्री खासे प्रसन्न हुए और उन्होंने इन दोनों कार्यों को जयपुर में प्रारंभ करवाने की बात कही। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल / ईश्वर-hindusthansamachar.in