कॉलेजों को ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया का पोस्टर-बैनर लगाकर करना होगा प्रचार
कॉलेजों को ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया का पोस्टर-बैनर लगाकर करना होगा प्रचार
राजस्थान

कॉलेजों को ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया का पोस्टर-बैनर लगाकर करना होगा प्रचार

news

जयपुर, 02 अगस्त (हि. स.)। कॉलेज शिक्षा निदेशालय इस बार प्रदेश के सरकारी महाविद्यालयों में अधिकाधिक नामांकन के लिए नवाचार कर रहा है। कॉलेजों में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया प्रारम्भ हो चुकी हैं। ऐसे में विद्यार्थियों तक ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया की अधिकाधिक जानकारी पहुंचाने के लिए कॉलेजों को सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर-बैनर लगाकर प्रचार-प्रसार करने को कहा गया है। कॉलेज शिक्षा आयुक्त बीएल गोयल ने इस संबंध में सभी प्राचार्यों को निर्देशित किया है। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण बच्चे, युवा और उनकी पढ़ाई बुरी तरह प्रभावित हुई है। स्कूल और कॉलेज बंद होने का असर उनकी पढ़ाई और परीक्षाओं पर तो पड़ा ही है, साथ ही कॉलेजों की मानक संचालन प्रक्रिया भी प्रभावित हुई है। राज्य सरकार ने बिना परीक्षा करवाए स्टूडेंट्स को एसेसमेंट के आधार पर प्रमोट करने का निर्णय किया और ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया शुरू की। अब कॉलेज शिक्षा निदेशालय ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया की जानकारी अधिक से अधिक से लोगों तक पहुंचाने के लिए इसका प्रसार-प्रचार भी करवा रहा है। निदेशालय ने प्रदेश के सभी सरकारी कॉलेजों को इस संबंध में निर्देश दिए हैं कि ऑनलाइन एडमिशन प्रोसेस का पोस्टर और बैनर के जरिए प्रसार करे। साथ ही समाचार पत्रों के माध्यम से इसकी जानकारी दे। जिससे दूरदराज और ग्रामीण इलाकों तक के विद्यार्थियों को इसकी जानकारी मिल सके। कॉलेजों को ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया के संबंध में कॉलेज परिसर में बैनर और पोस्टर लगाने होंगे, जिसमें प्रवेश प्रक्रिया की पूरी जानकारी दी जाएगी। कॉलेज परिसर के अलावा सभी जिला मुख्यालयों, तहसील स्तर और जिला परिषदों में विशिष्ट स्थानों जहां आमजन का आना-जाना अधिक होता हो, वहां पोस्टर और बैनर लगवाए जाएंगे। कॉलेज प्रशासन को सार्वजनिक स्थानों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, शहर-गांवों के मुख्य बाजार, सब्जी मंडी मार्केट में भी बड़ी संख्या में लोग आते-जाते हैं, इसलिए यहां भी ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया का प्रसार किया जाएगा। निदेशालय ने कॉलेजों को अपने स्तर पर हेल्प डेस्क शुरू करने के लिए कहा है। विद्यार्थी एडमिशन प्रक्रिया से जुड़ी सभी जानकारी हेल्प डेस्क से प्राप्त कर सकेंगे। ऑनलाइन एडमिशन की प्रक्रिया, पाठ्यक्रम, कोर्सेज से जुड़ी कोई भी जानकारी विद्यार्थी को हेल्प डेस्क से मिल सकेगी। कॉलेजों को हेल्पलाइन का नंबर पोस्टर और बैनर पर भी प्रदर्शित करना होगा। प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई है। 28 जुलाई से प्रथम वर्ष में प्रवेश करने के लिए स्टूडेंट्स ऑनलाइन फॉर्म भर चुके हैं। प्रवेश प्रक्रिया पूरी तरह ऑनलाइन है। कॉलेज आयुक्तालय के अनुसार स्टूडेंट्स के मूल दस्तावेज भी कोरोना की परिस्थितियां सामान्य होने के बाद जांचे जाएंगे। प्रक्रियानुसार एडमिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 11 अगस्त है। ऑनलाइन सत्यापन करने की अंतिम तिथि 14 अगस्त है। कट ऑफ लिस्ट 17 अगस्त को जारी होगी। स्टूडेंट्स ई-मित्र से 22 अगस्त तक फीस जमा करा सकेंगे। प्रथम वर्ष की ऑनलाइन क्लासेज 29 अगस्त से शुरु होगी। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संंदीप-hindusthansamachar.in