उत्तर पश्चिम रेलवे ने अगस्त में 1.543 मिलियन टन माल लदान किया
उत्तर पश्चिम रेलवे ने अगस्त में 1.543 मिलियन टन माल लदान किया
राजस्थान

उत्तर पश्चिम रेलवे ने अगस्त में 1.543 मिलियन टन माल लदान किया

news

जयपुर, 10 सितम्बर (हि.स.)। देश के प्रत्येक भाग में आवश्यक सामग्री की निर्बाध आपूर्ति हो इसके लिये रेलवे की ओर से विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। इस वर्ष अगस्त माह में उत्तर पश्चिम रेलवे पर 1.543 मिलियन टन माल लदान किया गया, जो कि अगस्त 2019 के 1.420 मिलियन टन से 8.66 प्रतिशत अधिक है। वर्तमान में जब रेलवे पर में यात्री गाडियों का संचालन सीमित संख्या में हो रहा है, इसको देखते हुए मालगाडियों के संचालन पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा माल लदान से अगस्त माह में 178.70 करोड रुपये की आय अर्जित की है। यह मालभाडा आय अगस्त 2019 के 148.20 करोड रुपये की अपेक्षा 20.6 प्रतिशत अधिक है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में अगस्त माह तक उत्तर पश्चिम रेलवे पर कुल 6.55 मिलियन टन का लदान किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार रेलवे पर माल लदान तथा ढुलाई को अधिक से अधिक प्रोत्साहित किया जा रहा है, इसके लिये विशेष प्रयास किये जा रहे है ताकि माल ग्राहको को होने वाली समस्या का निराकरण कर उन्हें रेलवे पर माल लदान के लिए आकर्षित किया जा सके। इसके लिए जोनल एवं मंडल स्तर पर स्थापित बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट की स्थापना की गई है जो व्यवसायियों और उद्योगपतियों से संपर्क कर उन्हे रेलवे के आकर्षक योजनाओं से अवगत कराएगा। इस यूनिट के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया जा रहा कि रेलवे से माल ढुलाई अन्य परिवहन साधन से बेहतर और विश्वसनीय होने के साथ ही मितव्ययी भी है। बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट रेलवे पर माल ढुलाई को सरल और सुलभ बनाने के लिए व्यवसायिकों के साथ निरन्तर विचार-विमर्श कर लदान बढ़ाने के लिए प्रस्ताव प्राप्त करेगी। व्यापार उद्योग से प्राप्त किसी भी प्रस्ताव का तत्काल क्षेत्रीय स्तर पर विश्लेषण किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in