आरएएस भर्ती में अनियमितता पर मांगा जवाब
आरएएस भर्ती में अनियमितता पर मांगा जवाब
राजस्थान

आरएएस भर्ती में अनियमितता पर मांगा जवाब

news

जयपुर,23 जुलाई (हि.स.)। राजस्थान हाईकोर्ट ने आरएएस भर्ती-2018 की मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी करने में हुई अनियमिता के मामले में कार्मिक सचिव और आरपीएससी सचिव सहित अन्य से जवाब तलब किया है। न्यायाधीश इन्द्रजीत सिंह की एकलपीठ ने यह आदेश अनुराग व अन्य की ओर से दायर याचिका पर प्रारंभिक सुनवाई करते हुए दिए। याचिका में अधिवक्ता रामप्रताप सैनी ने अदालत को बताया कि याचिकाकर्ता आरएएस भर्ती में विभागीय मंत्रालयिक कोटे के तहत शामिल हुए थे। आरपीएससी की ओर से साक्षात्कार के लिए कुल पदों के मुकाबले दोगुना अभ्यर्थियों के स्थान पर कम अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में पास किया। इसके अलावा विभागीय मंत्रालयिक वर्ग के पदों के लिए विभागीय कर्मचारियों को उत्तीर्ण करने के बजाए दूसरे लोगों को उत्तीर्ण कर दिया। याचिका में कहा गया कि आयोग ने उत्तर पुस्तिकाओं की जांच भी आनन-फानन में ऑनलाइन कराई है। वहीं यदि आयोग तय संख्या में अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाता और विभागीय पदों पर दूसरे अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण नहीं करता तो याचिकाकर्ताओं का साक्षात्कार के लिए चयन हो जाता। जिस पर सुनवाई करते हुए एकलपीठ ने संबंधित अधिकारियों से जवाब तलब किया है। हिन्दुस्थान समाचार/पारीक/संदीप-hindusthansamachar.in