आमेर में हाथी सफारी पुनः प्रारम्भ कराने के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
आमेर में हाथी सफारी पुनः प्रारम्भ कराने के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
राजस्थान

आमेर में हाथी सफारी पुनः प्रारम्भ कराने के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

news

जयपुर, 22 नवम्बर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने आमेर महल एवं हाथी गांव में हाथी सफारी पुनः प्रारम्भ कराये जाने के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है। पूनियां ने कहा कि उपरोक्त विषयान्तर्गत कोरोना वैश्विक महामारी के कारण जयपुर जिले के महावतों के समक्ष संकट उत्पन्न हो गया है। कोरोना महामारी के कारण पिछले नौ महीने से आमेर महल एवं हाथी गांव में हाथी सफारी नहीं हो सकी है, जिसके कारण इन महावतों की आय बुरी तरह प्रभावित हुई है एवं इनको जीवनयापन करने में अत्यन्त कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। हाथी सवारी बंद होने से हाथियों की पाचन क्षमता भी कमजोर हुई है, जिसके कारण लॉकडाउन के दौरान 4 हाथियों की मौत भी हो चुकी है। हाथियों के खान-पान, दवाईयों के साथ-साथ परिवार को पालना इन महावतों के लिए मुश्किल हो गया है। हाथी कल्याण कोष से प्रतिदिन 600 रूपये प्रति हाथी उपलब्ध कराये जा रहे है, जो कि नाकाफी साबित हो रहे है, क्योंकि प्रतिदिन प्रति हाथी पर खर्च की राशि (लगभग 3000 रूपये) इससे ज्यादा है। उन्होंने कहा कि मेरा आपसे आग्रह है कि उपरोक्त परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए आमेर महल एवं हाथी गांव में हाथी सफारी पुनः प्रारम्भ कराये जाने हेतु दिशा-निर्देश प्रदान कराये जाने का श्रम करावें, जिससे इस कोरोना संकट के समय इन महावतों को राहत पहुंचाई जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in