अदालत के आदेशों की अवहेलना पर याचिका दायर करेगा अभिभावक संघ
अदालत के आदेशों की अवहेलना पर याचिका दायर करेगा अभिभावक संघ
राजस्थान

अदालत के आदेशों की अवहेलना पर याचिका दायर करेगा अभिभावक संघ

news

जयपुर, 05 नवम्बर (हि.स.)। निजी स्कूल संचालकों द्वारा असीमित समय तक ऑनलाइन क्लास बन्द करने पर संयुक्त अभिभावक संघ ने कहा कि ऑनलाइन क्लास बन्द करना खुलेआम अभिभावकों को धमकी देना है। निजी स्कूल संचालक लगातार हठधर्मिता का प्रदर्शन करते हुए अभिभावकों के सम्मान को ठेस पहुंचा रहे हैं। संयुक्त अभिभावक संघ अध्यक्ष अरविंद अग्रवाल और महामंत्री संजय गोयल ने बताया कि निजी स्कूल संचालकों ने ऑनलाइन क्लास बन्द कर खुलेआम राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश की अवहेलना की है। संयुक्त अभिभावक संघ के अधिवक्ता अमित छंगाणी इस बात को पुरजोर तरीके से अगली सुनवाई में प्रथम वरीयता के साथ रखेंगे। साथ ही संयुक्त अभिभावक संघ कोर्ट की अवहेलना करने पर याचिका दायर करेगा। संघ उपाध्यक्ष मनोज शर्मा और कोषाध्यक्ष सर्वेश मिश्रा ने बताया कि निजी स्कूल संचालकों को अभिभावकों की परिस्थितियों को समझना चाहिए। कोर्ट ने 7 सितम्बर को 70 फीसदी ट्यूशन फीस का आदेश दिया, लेकिन इसमें भी स्कूल संचालकों ने रास्ते खोजकर फुल फीस को ट्यूशन फीस बना दिया। संयुक्त अभिभावक संघ ने सबूतों के साथ कोर्ट के समक्ष स्कूलों द्वारा की जा रही अवहेलना पर अपना पक्ष रखा है। संघ मंत्री युवराज हसीजा और मनोज जसवानी ने बताया कि संघ निजी स्कूल संचालकों से पूछना चाहती है कि वे फीस जमा करना चाहते है या अभिभावकों की आवाज को खत्म करना चाहते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर-hindusthansamachar.in