राणा सोढी द्वारा पंजाब के स्टेडियम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए खोलने की हिदायत

राणा सोढी द्वारा पंजाब के स्टेडियम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए खोलने की हिदायत
rana-sodhi-instructed-to-open-the-stadiums-of-punjab-for-national-and-international-players

चंडीगढ़, 16 जूनः पंजाब के खेल, युवा सेवाएं और प्रवासी भारतीय मामलों संबंधी मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने कोरोना की दूसरी लहर के घट रहे मामलों के मद्देनज़र राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में भाग लेने के इच्छुक खिलाड़ियों के लिए तैयारियां करने हेतु पंजाब के सभी स्टेडियम खोलने सम्बन्धी खेल विभाग को हिदायत की है।

राज्य के सभी ज़िला खेल अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुये राणा सोढी ने बताया कि पंजाब सरकार ने फ़ैसला लिया है कि जो पुरुष और महिला खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंटों में भाग लेना चाहते हैं, उनकी तैयारी करने सम्बन्धी खिलाड़ियों को राज्य के स्टेडियमों में अभ्यास करने की छूट दी जाये क्योंकि अब कोरोना के मामले घटे हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों और कोचों को पंजाब सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोविड-19 की रोकथाम सम्बन्धी दिशा-निर्देशों की पालना यकीनी बनानी पड़ेगी। इस सम्बन्धी सभी ज़िला खेल अधिकारियों को पत्र जारी कर दिया गया है।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पंजाब के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों के लिए तैयार रखने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जा रही ताकि खिलाड़ी राज्य और देश का नाम रौशन कर सकें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में पंजाब सरकार राज्य में खेल समर्थकी माहौल सृजन करने के लिए दिन-रात काम कर रही है जिससे नौजवानों को नशों की तरफ़ से हटा कर रचनात्मक कामों में लगाया जा सके। हाल ही में पटियाला में महाराजा भुपिन्दर सिंह पंजाब खेल यूनिवर्सिटी की स्थापना की गई और ओलंपिक और अन्य मुकाबलों में पदक जीतने वालों के लिए इनामी राशि में बड़ा विस्तार किया गया है।

इस दौरान विशेष सचिव-कम- डायरैक्टर खेल और युवा सेवाएं श्री डी.पी.एस. खरबंदा ने बताया कि राज्य के स्टेडियमों को खिलाड़ियों के लिए खोलने संबंधी ज़िला खेल अधिकारियों को प्रबंध मुकम्मल करने के लिए कह दिया गया है जिससे कोविड की रोकथाम के नियमों की पालना यकीनी करते हुये खिलाड़ियों की तैयारी में कोई कमी ना रहे। उन्होंने बताया कि खिलाड़ियों को मानसिक तौर पर भी अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों के लिए तैयार किया जा रहा है।

अन्य खबरें

No stories found.