punjab39s-electoral-and-populist-budget-presented
punjab39s-electoral-and-populist-budget-presented
पंजाब

पंजाब का चुनावी और लोक लुभावन बजट पेश

news

-सरकारी बसों में महिलाओं और छात्रों को निशुल्क यात्रा की सुविधा मिलेगी -वृद्ध और महिलाओं की पेंशन दोगुनी की गई, छात्राें को मिलेगा मोबाइल चंडीगढ़, 08 मार्च (हि.स.)। पंजाब सरकार ने आज कुल 1,68,015 करोड़ रुपये का अपना अंतिम और लोक लुभावन बजट विधानसभा में पेश कर दिया। इसमें राज्य की सरकारी बसों में महिलाओं और छात्रों को निशुल्क यात्रा, दलित और निर्धन परिवारों की लड़कियों की शादी में शगुन योजना की राशि 21000 से बढ़ा कर 51000 करना, बुढ़ापा और विधवा पेंशन की राशि 750 रुपये मासिक से बढ़ाकर 1500 प्रतिमाह करना और इसके अतिरक्त किसानों को निशुल्क बिजली, छात्रों को मोबाइल फ़ोन देने के लिए 100 करोड़ रुपये आरक्षित रखने समेत अनेक घोषणाएं की गईं हैं। वेतन आयोग की सिफारिशें एक जुलाई से लागू करने, शिरोमणि पंजाबी साहित्यकारों की राशि 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख रुपये करने की घोषणा के साथ साथ अब राज्य में दुकानदारों के लिए 24 घंटे अपने संस्थान खोलने की स्वीकृति देने की बात भी बजट में की गई है। विधानसभा में बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने जो लोक लुभावन घोषणाएं कीं, उनमें आज़ादी के लिए संघर्ष करने वालों की पेंशन 7500 रुपये से बढ़ाकर 9400 रुपये करने, कामकाजी महिलाओं के लिए 7 महिला हॉस्टल बनाने, किसानों को निशुल्क बिजली देने की योजना के तहत वित्त वर्ष में 4650 करोड़ रुपये का उपबंध तथा इस वर्ष के अंत तक राज्यों के सभी शहरों में एलईडी लाइटें लगाना शामिल है। वित्त मंत्री ने कुल 1,68,015 करोड़ रुपये का बजट पेश किया लेकिन चालू वर्ष में 30000 करोड़ के बजट उपबंध मुहैया करवाने के बाद वास्तविक बजट 1,38,015 करोड़ रुपये का होगा। कुल प्राप्तियां 1,62,599 करोड़ रुपये होने की सम्भावना है। वित्त मंत्री ने बताया कि किसानों का फसल ऋण माफ़ी योजना के तहत 4624 करोड़ रुपये का ऋण माफ़ किया गया है। जबकि वर्ष 2021-22 में ऋण माफ़ी के दूसरे चरण में 1.13 लाख किसानों के 1,186 करोड़ रुपये और भूमिहीन खेत मजदूरों के 526 करोड़ रुपये माफ़ किये जायेंगे। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के लिए 3822 करोड़ रुपये, मुख्यमंत्री पंजाब कैंसर राहत कोष के लिए 150 करोड़ रुपये, फसल विविधता के लिए 200 करोड़ रुपये व शेष सभी विभागों के लिए पिछले वर्ष से अधिक राशि रखी गई है। हिन्दुस्थान समाचार/ नरेंद्र जग्गा/