national-investigation-agency-started-investigation-of-shauryachakra-awardee-comrade-balwinder-singh-sandhu-murder-case
national-investigation-agency-started-investigation-of-shauryachakra-awardee-comrade-balwinder-singh-sandhu-murder-case
पंजाब

नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी ने शुरू की शौर्यचक्र अवार्डी कामरेड बलविंदर सिंह संधू मर्डर केस की जांच

news

लुधियाना , 27 जनवरी (हि.स) तरनतारन के गांव भिखीविंड में आतंकियों की गोली का शिकार हुए शौर्यचक्र अवार्डी कामरेड बलविंदर सिंह संधू के मर्डर की जांच नैशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी ( एनआईए) ने शुरू कर दी है। गौर है कि कामरेड बलविंदर सिंह पर मोटरसाइकिल सवार दो युवकों ने उस समय फायरिंग कर दी थी जब वह घर में मौजूद थे। जिस कारण उनकी मौत हो गई थी। वारदात को अंजाम देने के बाद मोटरसाइकिल सवार मौके से फरार हो गए थे। तरनतारन की पुलिस ने भिंखीविंड पुलिस स्टेशन में उनकी पत्नी जगदीश कौर के बयान पर अज्ञात लोगों के खिलाफ आर्म एक्ट व मर्डर करने के आरोप में मामला दर्ज किया था। आतंकवाद के दौर में कामरेड व उनके परिवार ने आंतंवाद के विरूद्ध अपनी आवाज बुलंद की थी और पूरे परिवार ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी। उनकी इस बहादुरी के कारण भारत सरकार ने 1993 में उन्हें शौर्य चक्र से सम्मानित किया था। उनके साथ उनकी पत्नी जगदीश कौर, भाई रणजीत सिंह व उसकी पत्नी बलराज कौर को भी सम्मानित किया गया था। आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के कारण उन्हें पंजाब पुलिस की तरफ से सुरक्षा दी गई थी, लेकिन वारदात के कुछ माह पूर्व उनकी सुरक्षा वापस ले ली गई थी। पंजाब पुलिस की तरफ से की गई जांच के बाद खुलासा किया गया था कि उनकी हत्या की साजिश पाकिस्तान में बैठे खालिस्तारी आतंकवादी लखवीर सिंह रोड़े और पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी आईएसआई की तरफ से रची गई थी। इस साजिश को अंजाम गुरदासपुर के गांव भखरीवाल के रहने वाले सुखमीत पाल सिंह उर्फ सुख भखरीवाल ने दिया था , जो कि पहले कुख्यात गैगस्टर था और बाद में आतंकी संगठन से जुड़ गया। गौर है कि इस मामले में पुलिस ने कुछ आरोपियों को गिरफ्तार भी किया था। मामले की जटिलता को देखते हुए व इसमें शामिल लोगों के तार अर्तराज्यीज व अर्तराष्ट्रीय स्तर तक जुड़े होने की वजह से केन्द्रीय गृहमंत्रायल ने एनआईए को इस मामले की जांच करने के आदेश दिए है। गृहमंत्रायल के निर्देशों पर काम करते हुए एनआईए ने 26 जनवरी को दोबारा मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी है। सूत्रों का कहना है कि पंजाब पुलिस की तरफ से इस मामले में गिरफ्तार किए गए लोगों को एनआईए प्रोडकशन वारंट पर ले जाकर उनसे पूछताछ करेगी। हिन्दुस्थान समाचार/ कुमार/ नरेंदर जग्गा-hindusthansamachar.in

AD
AD