bjp-delegation-meets-governor-threatens-to-stop-campaigning-in-the-name-of-farmers-in-civic-elections
bjp-delegation-meets-governor-threatens-to-stop-campaigning-in-the-name-of-farmers-in-civic-elections
पंजाब

भाजपा का शिष्टमंडल राज्यपाल से मिला , निकाय चुनावों में किसानों के नाम से प्रचार रोकने की धमकियाँ

news

चंडीगढ़: 30 जनवरी ( हि स ) : प्रदेश में 14 फरवरी को होने जा रहे नगर निगम और नगर परिषद चुनाव को स्वतंत्र तथा निष्पक्ष रूप से करवाने को लेकर प्रदेश भाजपा के शिष्टमंडल ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा की अध्यक्षता में पंजाब के राज्यपाल वी.पी. सिंह बदनौर से मुलाकात की। इस शिष्टमंडल में राज्यसभा सांसद व प्रदेश भाजपा प्रभारी दुष्यंत गौतम विशेष रूप से उपस्थित हुए। मुलाकात उपरांत प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहाकि पंजाब में कानून-व्यवस्था बद से बदतर हो चुकी है और इस तरह की गंभीर स्थिति में, पंजाब में सत्तारूढ़ नेताओं के साथ-साथ अन्य विपक्षी दल अपने राजनीतिक स्वार्थ व लाभ के लिए हिंसा और धमकियों का सहारा ले रहे हैं। पंजाब में कई जगह भाजपा नेताओं पर जानलेवा हमले, भाजपा कार्यालयों में जबरन घुस कर तोड़-फोड़, भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों पर जानलेवा हमलों की कई घटनाएं हो चुकी हैं और आरोपियों के नाम बताए जाने पर पुलिस द्वारा कोई कारवाई नहीं की गई। भाजपा कार्यकर्ताओं को किसानों के नाम पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकियाँ दी जा रही है। आरोपी अभी तक खुलेआम घूम रहे हैं। शर्मा ने कहा कि राज्य में आदर्श आचार संहिता पहले ही लागू की जा चुकी है, जिसमें स्पष्ट रूप से यह कहा गया है कि राजनीतिक दल और उम्मीदवार यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके समर्थक अन्य दलों द्वारा आयोजित बैठकों और जुलूसों में अवरोध पैदा न करें या तोड़-फोड़ न करें। लेकिन सत्तारुढ़ पार्टी तथा अन्य विपक्षी दल भाजपा कार्यकर्ताओं के लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन करते हुए उन्हें चुनाव प्रचार और चुनाव लड़ने से रोकने के लिए हर तरह के हथकंडे अपना रहे हैं। राज्य में भय और आतंक का माहौल बन चुका है। शिष्टमंडल ने कहाकि राज्य निर्वाचन आयोग तथा राज्यपाल का यह कर्तव्य बनता है कि वह अपनी शक्तियों का प्रयोग कर यह सुनिश्चित करें कि प्रदेश में मतदाता किसी भी खतरे, भय और दबाव के बिना स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से मतदान करे। इस अवसर पर प्रदेश सह-प्रभारी डॉ. नरिंदर सिंह, संगठन महामंत्री दिनेश कुमार, पूर्व मंत्री मदन मोहन मित्तल, मनोरंजन कालिया, अनिल सरीन, बिक्रमजीत सिंह चीमा भी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार / नरेंद्र जग्गा /संजीव-hindusthansamachar.in

AD
AD