सुप्रीम कोर्ट के फैसले को माने पंजाब सरकार:दुष्यंत चौटाला
सुप्रीम कोर्ट के फैसले को माने पंजाब सरकार:दुष्यंत चौटाला
पंजाब

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को माने पंजाब सरकार:दुष्यंत चौटाला

news

अनिल विज के साथ नहीं कोई मतभेद चंडीगढ़, 12 अगस्त (हि.स.)। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने एसवाईएल के मुद्दे को सुलझाने पर जोर देते हुए कहा है कि भारत में सुप्रीम कोर्ट ही सर्वोच्च है। इसलिए पंजाब सरकार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू करते हुए हरियाणा को उसके हिस्से का पानी देना चाहिए। दुष्यंत चौटाला बुधवार को पंजाब के अमृतसर स्थित दरबार सिंह में माथा टेकने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हरियाणा को उसके हिस्से का पानी मिलना चाहिए। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस मुद्दे बिना वजह लटकाने का कोई औचित्य नहीं है। पंजाब को हट छोडक़र साझा बैठक में शामिल होना चाहिए। पाकिस्तान की तरफ जाने वाले पानी के मुद्दे पर बोलते हुए हरियाणा के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार को इस मामले में कड़ा संज्ञान लेते हुए पानी के बहाव को बदलना चाहिए। हरियाणा में हुए शराब घोटाले के मुद्दे पर गृहमंत्री अनिल विज के साथ किसी प्रकार के मतभेद होने से इनकार करते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंजाब में जहरीली शराब के कारण दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है। हरियाणा ने लॉकडाउन के दौरान शराब तस्करों के विरूद्ध कार्रवाई करते हुए 1200 से अधिक मामले दर्ज किए हैं। हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य है जिसने शराब तस्करी के मामले में कठोर कानून बनाया है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कोरोना काल में केंद्र द्वारा राहत पैकेज दिए जाने की जरूरत है। केंद्र द्वारा बीस लाख करोड़ के राहत पैकेज का लाभ हरियाणा को मिल रहा है। हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य है जिसने एमएसएमई को अलग विभाग का दर्जा प्रदान किया है। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/नरिंदर जग्गा-hindusthansamachar.in