पंजाब विधान सभा का एक दिवसीय सत्र 28 अगस्त को
पंजाब विधान सभा का एक दिवसीय सत्र 28 अगस्त को
पंजाब

पंजाब विधान सभा का एक दिवसीय सत्र 28 अगस्त को

news

चंडीगढ़, 17 अगस्त ( हि स ) : संवैधानिक ज़रूरत पूरा करने के लिए पंजाब विधान सभा का एक दिवसीय सत्र 28 अगस्त को होगा जोकि कोरोना महामारी के आने के बाद पहली बार बुलाया गया है। इस सत्र को बुलाने के लिए पंजाब मंत्रालय ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में सोमवार को वीडियो कान्फ्ऱेंस द्वारा हुई बैठक में स्वीकृति दी गई। मंत्री मंडल , 28 अगस्त को एक दिन के लिए सत्र बुलाया है , जिसकी दो बैठकों होंगी क्योंकि संविधान के अनुसार पिछले सत्र से छह महीनों के अंदर -अंदर अगला सत्र बुलाना ज़रूरी होता है। कोरोना की स्थिति सुधरने के बाद लम्बा सत्र बुलाया जायेगा।सत्र की शुरुआत शौक प्रस्तावों के साथ होगी जिसके बाद इसको कुछ देर के लिए उठा दिया जायेगा और फिर दोबारा बैठक बुलायी जायेगी जिसमें वैधानिक कामकाज होगा। यह बात याद रखनेयोग्य है कि 15वीं पंजाब विधान सभा का 11वां सत्र 4 मार्च, 2020 को समाप्त हुआ था। भारतीय संविधान के आर्टीकल 174 की धारा (1) के अनुसार इस समय के दौरान राज्यपाल प्रांतीय विधान सभा का सत्र बुलाने के लिए अधिकारित हैं जैसे उनको उपयुक्त समय लगे। पिछले सत्र की आखिरी बैठक और अगले सत्र की पहली बैठक के बीच छह महीनों के बाद का समय नहीं होना चाहिए। इसलिए 15वीं पंजाब विधान सभा का 12वां सत्र 4 सितम्बर, 2020 से पहले बुलाया जाना ज़रूरी था। इधर पंजाब में एक कैबिनेट मंत्री भी कोरोना पॉजिटिव है और एकांतवास में है और एक अकाली विधायक भी इसी स्थिति में है , जबकि एक मंत्री पहले से ही कोरोना पॉजिटिव थे। हिन्दुस्थान समाचार / नरेंद्र जग्गा-hindusthansamachar.in