पंजाब विधानसभा में नहीं पहुंचे पचास फीसदी विधायक
पंजाब विधानसभा में नहीं पहुंचे पचास फीसदी विधायक
पंजाब

पंजाब विधानसभा में नहीं पहुंचे पचास फीसदी विधायक

news

चंडीगढ़, 28 अगस्त (हि.स)। पंजाब विधानसभा में पहली बार पचास फीसदी विधायकों के साथ मानसून सत्र की कार्यवाही चली। कोरोना के चलते सत्ता पक्ष के अलावा शिरोमणि अकाली दल व आम आदमी पार्टी के विधायक भी सदन में नहीं पहुंचे। पंजाब विधानसभा के मानसून सत्र का आयोजन सोशल डिस्टेंसिंग के साथ किया गया। पंजाब सरकार द्वारा सत्र के आयोजन से पहले सभी विधायकों, अधिकारियों व कर्मचारियों की कोरोना जांच करवाई गई थी। पंजाब में अब तक पांच मंत्री और करीब 30 विधायक कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। जिसका असर शुक्रवार को सदन में साफ दिखाई दिया। पंजाब विधानसभा में सत्तारूढ़ कांग्रेस की तरफ से कोरोना पॉजिटिव होने के कारण संसदीय कार्यमंत्री ब्रहम मोहिंद्रा, सुंदर श्याम अरोड़ा, गुरप्रीत सिंह कांगड़ समेत पांच मंत्री कोरोना पॉजिटिव होने के कारण नहीं आए। इसके अलावा आम आदमी पार्टी की तरफ से केवल छह विधायकों ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा लिया। पंजाब विधानसभा के स्पीकर राणा केपी सिंह द्वारा अकाली विधायकों को सदन में आने की इजाजत नहीं दी गई। क्योंकि तीन दिन पहले विधायक दल की बैठक के दौरान अकाली दल का एक विधायक कोरोना पॉजिटिव मिला था और सभी विधायक उसके संपर्क में थे। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/नरिंदर जग्गा-hindusthansamachar.in