पश्चिम रेलवे ने माहिम स्‍टेशन के दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्‍मेंटल किया

पश्चिम रेलवे ने माहिम स्‍टेशन के दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्‍मेंटल किया
western-railway-dismantles-south-foot-over-bridge-of-mahim-station

मुंबई, 15 अप्रैल (हि.स.)। पश्चिम रेलवे द्वारा विभिन्न आधारभूत संरचनाओं के अपग्रेडेशन एवं क्षमता में वृद्धि के कार्य सफलतापूर्वक किये गये हैं। विगत कुछ समय में पश्चिम रेलवे ने यातायात ब्लॉकों का सर्वोपरि उपयोग करते हुए कई पैदल ऊपरी पुलों तथा स्काईवॉक के निर्माण तथा सड़क ऊपरी पुलों एवं पैदल ऊपरी पुलों का मरम्मत कार्य पूर्ण किया है। इसी श्रृंखला को आगे बढ़ाते हुए 10 से 13 अप्रैल, 2021 के दौरान यातायात एवं पावर ब्लॉक में माहिम स्टेशन के दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्मेंटल किया गया। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार, माहिम के पुराने डिस्मेंटल पैदल ऊपरी पुल के स्थान पर 6 मीटर चौड़ा एक नया पैदल ऊपरी पुल मई, 2020 में ही यात्रियों के लिए खोल दिया गया है। नये पैदल ऊपरी पुल की चौड़ाई पुराने पैदल ऊपरी पुल से अधिक है, जिससे कि यात्रियों को अधिक सहूलियत होगी तथा व्यस्त समय के दौरान भीड़ से भी बचा जा सकेगा। माहिम का पुराना एमसीजीएम पैदल ऊपरी पुल 4 मीटर चौड़ा एवं 62 मीटर लम्बा था तथा इससे 35 मीट्रिक टन स्ट्रक्चरल स्टील (6 गर्डर तथा 4 कॉलम सहित) थी, जिन्हें रात्रिकालीन ब्लॉक के दौरान सफलतापूर्वक डिलॉन्च किया गया। उल्लेखनीय है कि गर्डर एवं कॉलम की डिलॉन्चिंग से पूर्व फ्लोरिंग, डेक स्लैब, क्रॉस गर्डर, रेलिंग इत्यादि जैसे अन्य सभी प्रारंभिक कार्य भी यातायात एवं पावर ब्लॉक के दौरान ही पूर्ण किये गये। पुराने पैदल ऊपरी पुल के डिस्मेंटलिंग के फलस्वरूप ऊंचाई, कॉन्टैक्ट वायर तथा कैटनरी वायर की स्थिति में में सुधार से ओएचई प्रोफाइल भी बेहतर हुआ है। ठाकुर ने बताया कि ऐसे चुनौतीपूर्ण समय में भी पश्चिम रेलवे अपनी आधारभूत संरचनाओं को सुदृढ़ बनाने में अग्रसर है तथा आपदा को अवसर में बदलते हुए कार्यों को लक्ष्य समय में पूर्ण करने हेतु कोई कसर नहीं छोड़ रही है। वर्ष 2020-21 के दौरान मुंबई उपनगरीय खंड पर 14 नये पैदल ऊपरी पुलों तथा स्कायवॉक के निर्माण के साथ ही सड़क ऊपरी पुलों की मरम्मत एवं विभिन्न स्थलों पर नये एस्केलेटर लगाने का कार्य भी प्रगति पर है। पश्चिम रेलवे यात्रियों की संरक्षा को सदैव सर्वोच्च प्राथमिकता देती है। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप

अन्य खबरें

No stories found.