विद्युत मंडल को 6 हजार करोड़ का अनुदान दे महाराष्ट्र सरकार : भाजपा
विद्युत मंडल को 6 हजार करोड़ का अनुदान दे महाराष्ट्र सरकार : भाजपा
महाराष्ट्र

विद्युत मंडल को 6 हजार करोड़ का अनुदान दे महाराष्ट्र सरकार : भाजपा

news

मुंबई, 31 जुलाई (हि. स.)। भारतीय जनता पार्टी ने मांग की है कि महाराष्ट्र सरकार विद्युत मंडल को 6 हजार करोड़ का अनुदान देकर बिजली की समस्याओं का हल निकाले। इस संबंध में भाजपा प्रदेश माध्यम प्रमुख विश्वास पाठक ने सरकार से मांग की है। भाजपा प्रदेश माध्यम विभाग प्रमुख व राज्य विद्युत मंडल के पूर्व निदेशक विश्वास पाठक ने कहा कि लॉकडाउन के समय ग्राहकों को अधिक बिजली बिल भेजें गए हैं। मंत्रियों व अधिकारियों के लिए गाड़ी की खरीददारी के लिए जिस तरह से मंजूरी का प्रस्ताव तत्काल मंजूर किया गया, उसी तत्परता के साथ विद्युत मंडल को राज्य सरकार 6 हजार करोड़ का अनुदान दे। पाठक के अनुसार ग्राहकों को अधिक बिजली बिल भेजने से राज्य में असंतोष निर्माण हुआ है। ग्राहकों को राहत देने की बजाए महाविकास आघाडी सरकार इस समस्या पर ढिलमुल रवैया अपना रही है। ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने फिर से घिसीपिटी बातें कह रहे हैं। ऊर्जा मंत्री का कहना है कि सरकार अनुदान के रूप में महावितरण को सहायता करेगी, जिसका 93 प्रतिशत ग्राहकों को लाभ मिलेगा। सरकार द्वारा विद्युत मंडल को सहायता देने के संबंध में प्रस्ताव राज्य विद्युत नियामक मंडल को भेजा गया है। लेकिन ऊर्जा मंत्री को ज्ञात होना चाहिए कि सरकार को महावितरण कंपनी को अनुदान देने व यह अनुदान ग्राहकों में बांटने में किसी भी तरह की अनुमति नही लगती है। पाठक ने बताया कि महावितरण के ग्राहक साल में लगभग 70 हजार करोड़ की रकम बिल के माध्यम से देते हैं। आज उनके संकट के समय सरकार कम से कम एक महीने का कर अर्थात 6 हजार करोड़ रुपए की राशि अनुदान के रूप में देने पर ही ग्राहकों को राहत मिलेगी। सरकार 500 करोड़, 1 हजार करोड़ जितना अल्प अनुदान देकर ग्राहकों का अपमान न करे। हिन्दुस्थान समाचार/ विनय/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in