विशेषज्ञों का दावा: फिलहाल नहीं है महाराष्ट्र में 'डेल्टा प्लस वेरिएंट' का खतरा

विशेषज्ञों का दावा: फिलहाल नहीं है महाराष्ट्र में 'डेल्टा प्लस वेरिएंट' का खतरा
experts-claim-at-present-there-is-no-danger-of-39delta-plus-variant39-in-maharashtra

मुंबई 20 जून (हि.स.)। महाराष्ट्र में हलचल मची हुई है कि करुणा माया मारी के खतरनाक वेरिएंट डेलटा प्लस ने राज्य में दस्तक दे दी है। हालांकि राज्य स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञ डॉक्टरों का दावा है कि अभी तक राज्य में इस वेरिएंट से संक्रमित एक भी मरीज नहीं मिले हैं। राज्य की जनता को पैनिक होने की जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है। अपुष्ट खबरें आई हैं कि महाराष्ट्र के रत्नागिरी, पालघर और नई मुंबई में कोरोना डेल्टा वायरस वेरिएंट के सात मामले जीनोम सिक्वेंसिंग जांच में पाए गए हैं। महाराष्ट्र के मेडिकल एजुकेशन व अनुसंधान निदेशालय के निदेशक डॉ. तात्याराव लहाने ने महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वेरिएंट मिलने की खबरों से इनकार किया है। बीते मार्च महीने में देश के कुछ हिस्सों में इस वेरिएंट के मामले सामने आए हैं, लेकिन वह फैल नहीं रहा है। राज्य के लोगों को इससे जरा भी घबराने की जरूरत नहीं है। पालघर जिले के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दयानंद सूर्यवंशी ने भी स्पष्ट किया है कि अभी तक राज्य में डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है अभी तक इसके एक भी मरीज राज्य में नहीं मिले हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ विनय

अन्य खबरें

No stories found.