बच्चों में कोरोना संक्रमण, महाराष्ट्र में गठित होगी बालरोग विशेषज्ञों की टास्क फोर्स

बच्चों में कोरोना संक्रमण, महाराष्ट्र में गठित होगी बालरोग विशेषज्ञों की टास्क फोर्स
corona-infection-in-children-task-force-of-pediatricians-to-be-set-up-in-maharashtra

मुंबई, 07 मई (हि.स.)। कोरोना का संक्रमण छोटे बच्चों में भी बड़े पैमाने में फैल रहा है। कोरोना की तीसरी लहर आने की पूर्व सूचना को ध्यान में रखते हुए राज्य में बालरोग विशेषज्ञ डॉक्टरों की टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा। यह जानकारी शुक्रवार को महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने दी। स्वास्थ्य मंत्री टोपे ने पत्रकारों को बताया कि कोरोना की दूसरी लहर का मुकाबला किया जा रहा है। कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना जताई गई है। इस खतरे को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने जरूरी कदम उठाए हैं। विशेष तौर पर संक्रमित छोटे बच्चों के इलाज के लिए जल्द टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा। बच्चों का ख्याल और उपचार के लिए टास्क फोर्स काम करेगा। अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाना, बच्चों के लिए वेंटीलेटर और एनआईसीयू के लिए बेड तैयार किए जा रहे हैं। मेडिकल सुविधाएं बढ़ाई जा रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न बाल रोग विशेषज्ञों से चर्चा की थी। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि टीकाकरण में महाराष्ट्र अन्य राज्यों के मुकाबले पहले नंबर पर है। हालांकि पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध न होने के कारण 18 से 44 वर्ष के लोगों के टीकाकरण को गति नहीं मिल पा रही है। महाराष्ट्र को रसिया की स्पूतनिक वैक्सीन मिल सके, इसलिए रूस के डायरेक्टर इन्वेस्टमेंट फंड से वैक्सीन की कीमत को लेकर बातचीत चल रही है। वैश्विक निविदा के माध्यम से ऑक्सीजन कॉन्स्ट्रेटर मशीन की खरीदी की जानी है। तकनीकी मुद्दों जांच के लिए तीन डॉक्टरों की समिति नियुक्त की गई है। साथ ही डीसीजीआई की अनुमति से 3 लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन खरीदी का कार्यादेश जारी किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/विनय