वीवीएमसी क्षेत्र में कोरोना से पांच और लोगों की मौत, 183 नए मामले
वीवीएमसी क्षेत्र में कोरोना से पांच और लोगों की मौत, 183 नए मामले
महाराष्ट्र

वीवीएमसी क्षेत्र में कोरोना से पांच और लोगों की मौत, 183 नए मामले

news

मुंबई, 27 जुलाई, (हि. स.)। पालघर जिले की वसई विरार शहर मनपा (वीवीएमसी) क्षेत्र में कोरोना वायरस से मौत का सिलसिला जारी है। सोमवार को कोरोना से पांच और लोगों की मौत का मामला सामने आया है। इससे पहले रविवार को दो, शनिवार को चार, शुक्रवार को दो, गुरुवार को सात, बुधवार को नौ, मंगलवार को 11 लोगों की कोराना से मौत हो चुकी है। यहां अबतक 232 लोगों की कोरोना संक्रमण से जान जा चुकी है। वहीं, आज कोरोना के 183 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही मरीजों की कुल संख्या 11373 हो गई है। आज कोरोना संक्रमण से 122 मरीज ठीक हुए हैं। अब तक ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या 7408 हो गई है। जबकि 3733 मरीजों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। वसई विरार में पिछले 10 दिनों में कोरोना संक्रमण से 50 लोगों की मौत हुई है। जबकि 2430 नए मरीज पॉजीटिव पाये गये हैं। वहीं 1285 मरीज ठीक होकर घर लौटे हैं। 3677 मरीजों का अलग अलग अस्पतालों में उपचार चल रहा है। कोरोना संक्रमण से अबतक 227 लोगों की मौत हो चुकी है। वसई विरार में कुल मरीजों की संख्या 11190 पहुंच गई है। 7286 मरीज ठीक हुए हैं। शासन प्रशासन की मेहनत पर कोरोना महामारी ने पानी फेर दिया है। बढ़ते संक्रमण ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है। दस दिन पहले रिकवरी रेट 68 प्रतिशत पहुंच गया था। जो अब घटकर 65 प्रतिशत पर आ गया है। वहीं मौत के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं। दस दिन पहले कोरोना से मरने वाले मरीजों का प्रतिशत 1.97 था जो अब बढ़कर 2.04 पहुंच गया है। इसी तरह एक्टिव मरीज 30 प्रतिशत थे, जो अब बढ़कर 33 प्रतिशत हो गया है। वसई तालुका में कोरोना का सबसे ज्यादा कहर वसई में है। यहां तेजी से बढ़ रहे नए मरीजों की संख्या से प्रशासन की तमाम कोशिशें फेल साबित हो रही हैं। भले ही मनपा ने कई इलाकों को कन्टेनमेन्ट जोन घोषित कर इलाके सील किये हैं। लेकिन पुलिस की तैनाती न होने से यहां लोग खुलेआम घूमकर कोरोना को दवात दे रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप-hindusthansamachar.in