मध्य रेल : महाप्रबंधक ने किया लोनावला-पुणे-लोनावला खंड का निरीक्षण

मध्य रेल : महाप्रबंधक ने किया लोनावला-पुणे-लोनावला खंड का निरीक्षण
central-railway-general-manager-inspected-lonavala-pune-lonavala-section

मुंबई, 12 जून, (हि. स.)। मध्य रेल के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने लोनावला-पुणे- लोनावला सेक्शन का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उनके साथ पुणे मंडल के अधिकारी उपस्थित थे। कंसल ने इंस्पेक्शन कोच विंडो से लोनावला -पुणे डाउन तथा अप मार्ग का रेल मार्ग, विद्युत उपरी उपस्कर (ओएचई), पुलों की स्थिति, सिग्नल प्रणाली सहित सभी तकनीकी पहलुओं का अवलोकन किया। उन्होंने निरीक्षण करते हए रेलवे ट्रैक की सेफ्टी सहित 130 केएमपीएच की गति से संबंधित कार्यों का भी जायजा लिया। पुणे मण्डल के जनसंपर्क अधिकारी मनोज झंवर ने बताया कि पुणे में महाप्रबंधक कंसल ने घोरपडी स्थित डीजल लोको शेड का विस्तृत निरीक्षण किया। अपर मंडल रेल प्रबंधक श्रीमती नीलम चंद्रा, प्रकाश उपाध्याय, सहर्ष बाजपेई, डीजल शेड के वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजिनियर भालचंद्र मानकरे, उप मुख्य इंजिनियर (निर्माण) सचिन मुंगसे सहित कई अधिकारी मौजूद थे। कंसल ने लोको मरम्मत कार्यों का रखरखाव एवं अनुरक्षण से जुड़ी समस्त व्यवस्था का बारीकी से निरीक्षण कर जायजा लिया। महाप्रबंधक ने नए उच्च क्षमता कंप्रेसर का उद्घाटन किया। कंसल ने रेलवे अधिकारी क्लब में वृक्षारोपण किया। इसके पश्चात महाप्रबंधक ने मंडल के शाखा अधिकारियों के साथ बैठक कर मंडल पर चल रही योजनाओं, तकनीकी कार्यों, यात्री सुविधाओं एवं यात्री सुरक्षा से संबंधित कार्यों का जायजा लिया तथा समीक्षा कर मिशन जीरो फेलियर पर जोर दिया। उन्होंने स्पष्ट किया कि यात्रियों को सुरक्षित यात्रा प्रदान करना हमारी पहली प्राथमिकता है। महाप्रबंधक ने कहा कि सेफ्टी, मूलभूत न्यूनतम यात्री सुविधाओं पर हमारा विशेष ध्यान होना चाहिए तथा कार्य के दौरान आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहने हेतु भी उन्होंने प्रोत्साहित किया। उन्होंने मंडल द्वारा किए गए कार्यों पर संतोष व्यक्त किया। इस दौरान लोको परिचालन विभाग द्वारा कोविड से बचाव हेतु तैयार की गई एवं यांत्रिक विभाग द्वारा डेमू गाड़ी के परिचालन से संबंधित हैंडबुक का भी विमोचन महाप्रबंधक ने किया। महाप्रबंधक ने निरीक्षण के दौरान जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न यात्री संगठनों, कर्मचारी संगठनों आदि से मुलाकात कर उनकी मांगों/सुझावों पर उचित कार्यवाही का भरोसा दिया। निरिक्षण के दौरान कोविड-19 से संबंधित सभी मानदंडों, एसओपी का पालन किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप