भाजपा ने दिया एक सप्ताह में एसटी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने का अल्टीमेटम
भाजपा ने दिया एक सप्ताह में एसटी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने का अल्टीमेटम
महाराष्ट्र

भाजपा ने दिया एक सप्ताह में एसटी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने का अल्टीमेटम

news

मुंबई 17 सितंबर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी ने महाराष्ट्र सरकार को एसटी कर्मचारियों का बकाया वेतन का भुगतान करने के लिए एक सप्ताह का अल्टीमेटम दिया है। अगले आठ दिनों में यदि एसटी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया गया तो राज्यभर में उग्र आंदोलन छेड़ने की चेतावनी दी गई है। विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने कहा कि एसटी कर्मचारियों के साथ भाजपा कार्यकर्ता मजबूती से खड़े रहेंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह में कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया गया तो भाजपा राज्य में सभी एसटी डिपो में आंदोलन शुरू करेगी। नेता विपक्ष ने दरेकर ने गुरुवार को एसटी कर्मचारियों के वेतन बकाया और अन्य लंबित मांगों के संबंध में एसटी प्रबंध निदेशक शेखर चन्ने से मुलाकात की। एसटी कर्मचारियों की शिकायतों को उनके समक्ष रखा। सभी मसलों पर विस्तार से चर्चा की गई। इस अवसर पर भाजपा विधायक राहुल नार्वेकर, कर्मचारी प्रतिनिधि चंद्रकांत राणे, मनोहर नारकर, बीडी पारले आदि उपस्थित थे। दरेकर ने कहा कि राज्य सरकार को एसटी कर्मचारियों से कोई लेना-देना नहीं है, जो कोरोना महामारी में अपनी जान जोखिम में डालकर सेवाएं दे रहे हैं। दरेकर ने कहा कि प्रबंध निदेशक के अनुसार एसटी की आय 100 करोड़ रुपये और वेतन बकाया 300 करोड़ रुपये है। उन्होंने राज्य सरकार से कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने की मांग की है। तीन महीने से कर्मचारियों का वेतन नहीं मिला है, उनका घर कैसे चलेगा। दरेकर ने बताया कि परिवहन मंत्री अनिल परब ने 300 रुपये के भत्ते की घोषणा की थी, लेकिन कई कर्मचारियों को अभी तक भत्ता नहीं मिला है।कर्मचारियों को भत्ते का भुगतान जल्द से जल्द किया जाना चाहिए। एसटी कर्मचारियों को 50 लाख रुपये का बीमा देने की भी घोषणा की गई थी, लेकिन उन्हें अभी तक बीमा नहीं मिला है। कोरोना से मरने मवाले 43 एसटी कर्मचारियों के परिवारवालों को 50 लाख रुपये बीमा कवर का तुरंत भुगतान किया जाना चाहिए। दरेकर ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार पत्रकारों के मामले में भी संवेदनशील नहीं है। पत्रकारों को अभी तक बीमा कवर नहीं दिया गया है। दरेकर ने कहा कि हमने राज्य सरकार से एसटी महामंडल के लिए 2 हजार करोड़ रुपये मदद देने की मांग की है। अगर सरकार एसटी को एक हजार करोड़ रुपये आर्थिक देेती है तो भी कर्मचारियों के दो महीने के वेतन के मसले का हल निकल जाएगा। दरेकर ने स्पष्ट किया कि अगर आठ दिनों के भीतर एसटी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया जाता है, तो भारतीय जनता पार्टी उग्र आंदोलन करेगी। हिन्दुस्थान समाचार / विनय/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in