भांडुप- मुलुंड में मिली 5 हजार खाट का अस्पताल बनाने के लिए जमीन
भांडुप- मुलुंड में मिली 5 हजार खाट का अस्पताल बनाने के लिए जमीन
महाराष्ट्र

भांडुप- मुलुंड में मिली 5 हजार खाट का अस्पताल बनाने के लिए जमीन

news

मुंबई, 17 सितंबर (हि. स.)। कोरोना महामारी फैलने के बाद मुंबई में सबसे बड़ी समस्या इस तरह के अस्पताल के न होना दिखाई दी।मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई में 5 हजार खाट का साथ कि बीमारी अस्पताल बनाने की जरूरत बताया। उनके निर्देश पर मुंबई मनपा ने पूर्व उपनगर में एक बड़ा भूखंड की खोज शुरू की।मुलुंड और भांडुप के दो जमीन मालिक मनपा को अपनी जमीन बेचने के लिए आगे आये है। बता दे कि मलेरिया डेंगू जैसी एक दूसरे के संपर्क से होने वाली बीमारियों का इलाज करने के लिए एक मात्र कस्तूरबा अस्पताल मुंबई में है। यह अस्पताल मात्र 125 खाट का है। कोरोना महामारी भी एक दूसरे के संपर्क में आने से फैल रही है।मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस तरह की बीमारियों से निपटने और मरीजो को इलाज की अच्छी सुविधा देने के लिए मुँबई में एक बड़ी अस्पताल की जरूरत बताया था। उद्धव ठाकरे ने मुंबई मनपा को एक बड़ा अस्पताल पूर्व उपनगर में बनाने की बात कही थी उन्होंने कहा था कि इस तरह का उपयोग बाद में ठाणे और नवीमुंबई के मरीजो यहां तक कि जरूरत पड़ने पर पुणे तक के मरीज ईलाज कराने यहाँ आ सकेंगे। बता दे कि 5 हजार खाट का अस्पताल बनाने को लेकर 20 एकड़ का भूखंड की जरूरत होगी। मनपा प्रशासन ने निविदा निकाल कर 20 एकड़ तक भूखंड मालिको को मनपा को जमीन देने की मांग की थी।मनपा जमीन के बदले टीडीआर अथवा उसकी कीमत देना निश्चित किया है।मनपा द्वारा निकाली गई निविदा के पहले तय समय सीमा में मात्र एक जमीन मालिक आगे आया था जिसके चलते मनपा ने निविदा प्रक्रिया की तारीख 10 दिन आगे बढ़ा दी थी। अब दो जमीन मालिक एक मुलुंड और एक भांडुप का मनपा को अपनी जमीन देने के लिए आगे आए है।मनपा की ओर से अब जमीन के कागजात औऱ जगह देखकर निश्चित किया जाएगा कि कौन सी जमीन अस्पताल बनाने के लिए अधिक उपयोगी होगी। हिन्दुस्थान समाचार / राजबहादुर-hindusthansamachar.in