फीस को लेकर स्कूलों की मनमानी की सांसद से शिकायत

फीस को लेकर स्कूलों की मनमानी की सांसद से शिकायत
फीस को लेकर स्कूलों की मनमानी की सांसद से शिकायत

मुंबई, 25 जुलाई, (हि. स.)। पालघर जिले की वसई तहसील क्षेत्र में स्कूल प्रशासन की ओर से बच्चों के अभिभावकों पर फीस भरने को लेकर दबाव का मामला सामने आ रहा है। इस समस्या के समाधान को लेकर शनिवार को जिले के सांसद राजेन्द्र गावित ने वसई पश्चिम स्थित विश्वकर्मा हॉल में प्रेस कॉन्फ्रेंस ली। पत्रकारों के साथ शिक्षा अधिकारी, पूर्व विरोधी पक्ष नेता व छात्रों के अभिभावक मौजूद थे। इस दौरान अभिभावकों ने शिक्षण अधिकारी माधव मते से फीस को लेकर बातचीत की। अभिभावकों का कहना है कि मार्च से स्कूल बंद हैं तो फीस किस बात की ली जा रही है। फीस न भरने पर बच्चे को स्कूल से निकाल देने की धमकी दी जा रही है। ऑनलाइन पढ़ाई के बारे में अभिभावकों ने कहा कि स्कूल वाले आधा घंटे का वीडियो बनाकर मोबाइल में भेज देते हैं। इससे कैसे ऑनलाइन पढ़ाई होगी। वहीं निम्न वर्ग के लोगों के घरों स्मार्ट फोन नहीं होते हैं। सांसद ने शिक्षा अधिकारी से कहा कि इस तरह मनमानी कर फीस वसूलने वाले स्कूलों पर कार्रवाई की करें। गावित ने कहा कि राज्य सरकार ने जीआर निकाला है कि लॉकडाउन के चलते जब से स्कूल बंद हैं, किसी से फीस नहीं ली जाए। शिक्षा अधिकारी माधव मते ने कहा कि हमारे पास अब तक इस तरह की कोई शिकायत नहीं आई है। अगर कोई स्कूल फीस के लिए दवाब बनाता है तो उसपर कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.