फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को सुरक्षा मुहैया कराने पर सत्ता पक्ष ने जताई नाराजगी
फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को सुरक्षा मुहैया कराने पर सत्ता पक्ष ने जताई नाराजगी
महाराष्ट्र

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को सुरक्षा मुहैया कराने पर सत्ता पक्ष ने जताई नाराजगी

news

मुंबई, 07 सितंबर (हि.स.)। केंद्र सरकार द्वारा फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को वाई श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराए जाने पर महाराष्ट्र के सत्ता पक्ष के नेताओं ने नाराजगी जताई है। सूबे के गॄहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि महाराष्ट्र व मुंबई पुलिस का अपमान करने वाली कंगना का सभी दलों को निषेध करना चाहिए। चाहे वह भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस, राकांपा या अन्य दल हों सभी को एक एकसूर से कंगना का निषेध करना चाहिए। कंगना ने राज्य की 11 करोड़ जनता का अपमान किया है। यह दुर्भायपूर्ण है कि केंद्र सरकार ने कंगना रनौत को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी है। मदद व पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार ने कहा कि कंगना भाजपा की पोपट है। यह कहना कि मुंबई पुलिस पर विश्वास नहीं है, लोगों को सुरक्षा नहीं दी जाती है। यह देश का दुर्भाग्य है। परंतु जिन्हें मुंबई पुलिस पर विश्वास नहीं है। वे सभी महाराष्ट्रद्रोही अब देशभक्त हो गए हैं। पिछले कई दिनों से कंगना रनौत और उसे समर्थन करने वाली भाजपा, इसको लेकर राजनीति करने निकली है। कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा देने का निर्णय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने घोषित किया है। वडेट्टीवार ने कहा कि महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस पर जिसको विश्वास नहीं है, ऐसे लोगों को केंद्र सरकार द्वारा वाय श्रेणी की सुरक्षा दी जा रही है। यह देश का दुर्भाग्य है। भाजपा कंगना पर खूब मेहरबानी कर रही है। आने वाले दिनों में भाजपा कंगना को राज्य सभा या विधान परिषद में भेज सकती है। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने कंगना की जांच कर 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट पेश करने की मांग की है। सपा विधायक अबू आसिम आजमी ने कहा कि महाराष्ट्र व मुंबई पुलिस का अपमान करने वाली कंगना रनौत को महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है। कंगना को मुंबई पुलिस पर विश्वास नहीं है, तो वे हिमाचल में जाकर रहे। उनकों कोई यहां नहीं बुला रहा है। कंगना भाजपा और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के इशारे पर नाच रही हैं। हिन्दुस्थान समाचार / विनय/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in