पश्चिम रेलवे ने विले पार्ले स्टेशन पर पुराने दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्मेंटल किया
पश्चिम रेलवे ने विले पार्ले स्टेशन पर पुराने दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्मेंटल किया
महाराष्ट्र

पश्चिम रेलवे ने विले पार्ले स्टेशन पर पुराने दक्षिणी पैदल ऊपरी पुल को डिस्मेंटल किया

news

मुंबई, 16 अक्टूबर, (हि. स.)। पश्चिम रेलवे ने कोरोनो वायरस महामारी के फलस्वरूप देशव्यापी तालाबंदी के दौरान सीमित कर्मचारियों और सुविधाओं के साथ विभिन्न बुनियादी ढांचों के कार्यों का सफलतापूर्वक निष्पादन किया है। पिछले कुछ महीनों में, पश्चिम रेलवे ने फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) और स्काईवॉक के कई निर्माण कार्य पूरे किए हैं और लॉकडाउन की अवधि का सबसे अच्छा उपयोग करते हुए कई रोड ओवर ब्रिज (आरओबी) और एफओबी के मरम्मत कार्य भी किए हैं। इस श्रृंखला को जारी रखते हुए, पश्चिम रेलवे के विले पार्ले स्टेशन पर स्थित पुराने दक्षिणी एफओबी के तीन स्पैन 12 और 13 अक्टूबर, 2020 की रात को 4-4 घंटों के लगातार ट्रैफिक ब्लॉक के दौरान डी-लांच किए गए। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार, विले पार्ले में पुराने एफओबी के बदले, एक नया 6 मीटर चौड़ा एफओबी पहले ही यात्रियों के उपयोग के लिए खोला जा चुका है। वास्तव में, नए एफओबी की चौड़ाई पुराने एफओबी की तुलना में अधिक है, जिससे यह अधिक संख्या में यात्रियों को समायोजित करता है और पीक ऑवर्स के दौरान भीड़ से बचने में भी मदद करता है। नाइट ब्लॉक के दौरान 3 स्पैनों के 3.9 मीटर की चौड़ाई वाले पुराने एफओबी को सफलतापूर्वक डिस्मेंटल कर दिया गया। पश्चिम रेलवे ने अब तक ऐसे 13 एफओबी को सफलतापूर्वक डिस्मेंटल कर दिया है, जिन्हें आईआईटी-बॉम्बे द्वारा किए गए ऑडिट के दौरान उपयोग के लिए असुरक्षित घोषित किया गया था और विले पार्ले स्टेशन का पुराना दक्षिणी एफओबी इस डिस्मेंटलिंग श्रृंखला की नवीनतम कड़ी है। गौरतलब है कि आईआईटी-बॉम्बे की ऑडिट रिपोर्ट के अनुसार असुरक्षित घोषित किये गये 16 एफओबी को डिस्मेंटल किया जाना था, जिनमें से अब तक 13 एफओबी पश्चिम रेलवे द्वारा डिस्मेंटल कर दिए गए हैं। अब तक डिस्मेंटल किए गए अन्य एफओबी में हिंदी विद्या भवन, मरीन लाइन्स (मध्य), लोअर परेल (उत्तर), माटुंगा रोड (उत्तर), माहिम (उत्तर), बांद्रा (मध्य), बांद्रा (उत्तर), खार रोड (मध्य), मालाड (दक्षिण), मालाड (उत्तर), नायगांव (दक्षिण) और नालासोपारा (उत्तर) के एफओबी शामिल हैं। शेष तीन एफओबी, यानी दादर (दक्षिण), अंधेरी (मध्य - छः स्पैन में से, दो पूर्व स्पैनों को हटा दिया गया है) और गोरेगांव (मध्य) का डिस्मेंटलिंग कार्य चल रहा है और इसके पूर्ण होने की लक्ष्य तिथि 31 दिसम्बर, 2020 रखी गई है। यात्रियों की सुरक्षा की बात करें तो पश्चिम रेलवे ने हमेशा इस महत्त्वपूर्ण पहलू को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। ठाकुर के अनुसार पश्चिम रेलवे के मुंबई उपनगरीय खंड पर, 8 नए फुट ओवर ब्रिज और एक नए स्काईवॉक को चालू किया गया है और 7 पुराने एफओबी इस लॉकडाउन अवधि के दौरान डिस्मेंटल किये गये हैं। इसके अलावा, लोअर परेल स्टेशन के पास डिलाइल आरओबी और ग्रांट रोड स्टेशन के पास फरेरे आरओबी के महत्वपूर्ण निर्माण कार्य प्रगति पर हैं। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप/राजबहादुर-hindusthansamachar.in