आयोग के हस्तक्षेप पर विधवा महिला को मिले चार लाख रूपये

आयोग के हस्तक्षेप पर विधवा महिला को मिले चार लाख रूपये
widow-woman-gets-four-lakh-rupees-on-the-intervention-of-the-commission

भोपाल, 12 अप्रैल (हि.स.)। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के हस्तक्षेप पर सिंगरौली जिले की एक विधवा महिला को पति की मृत्यु के उपरांत क्षतिपूर्ति के रूप में 04 लाख रुपये दे दिये गए हैं। भुगतान प्राप्त हो जाने पर आयोग में यह प्रकरण समाप्त कर दिया गया है। मानव अधिकार आयोग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार साकिन छतौली, थाना माडा, जिला सिंगरौली निवासी आवेदिका सलिता यादव ने आयोग को एक आवेदन दिया था, जिसमें उन्होंने अपने पति ओमप्रकाश पिता रामजी यादव की 25 अक्टूबर 2019 को हुई मौत की निष्पक्ष जांच कराये जाने हेतु आयोग से शिकायत की थी। आयोग ने इस शिकायती आवेदन पर प्रकरण दर्ज करते हुये (क्र. 7203/सिंगरौली/2019) पुलिस अधीक्षक, सिंगरौली से प्रतिवेदन मांगा। पुलिस अधीक्षक, सिंगरौली ने मामले की गहन जांच उपरांत प्रतिवेदन दिया कि चूंकि ओमप्रकाश की मृत्यु बिजली का करंट लगने से हुई है, इसलिये आवेदिका को म.प्र. विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड, जबलपुर से क्षतिपूर्ति राशि पाने का अधिकार है। इस पर आयोग द्वारा कार्यपालन अभियंता, म.प्र.पू.क्षे.वि.वि. कम्पनी लिमिटेड, बैढन, जिला सिंगरौली से प्रतिवेदन मांगा गया। कार्यपालन अभियंता, म.प्र.पू.क्षे.वि.वि. कम्पनी लिमिटेड, बैढन, जिला सिंगरौली ने आयोग को अवगत कराया है कि आवेदिका सलिता यादव को मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत, बैढन के माध्यम से उनके पति की असमय मृत्यु होने पर क्षतिपूर्ति राशि के रूप में चार लाख रूपये का भुगतान प्राप्त हो गया है। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे/राजू