कुपोषित बच्चों का जीवन बचाने में अहम भूमिका निभाएं स्वयंसेवकः कमिश्नर

कुपोषित बच्चों का जीवन बचाने में अहम भूमिका निभाएं स्वयंसेवकः कमिश्नर
volunteers-should-play-an-important-role-in-saving-the-lives-of-malnourished-children-commissioner

शहडोल, 30 जून (हि.स.)। शहडोल कमिश्नर राजीव शर्मा ने कहा है कि संभाग में कुपोषित बच्चों का जीवन बचाने में संभाग के स्वयंसेवक एवं स्वैच्छिक संगठन अहम भूमिका निभाएं। कुपोषित बच्चों का जीवन बचाने से बड़ा पवित्र कार्य कोई नहीं है। संभाग में कुपोषण, मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है। शासन द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ कुपोषित परिवारो तक पहुंचाने की आवश्यकता है, जिसमें जन अभियान परिषद के स्वयंसेवक एवं शहडोल संभाग के स्वैच्छिक संगठन अहम भूमिका निभा सकते हैं। कमिश्नर ने यह बातें बुधवार को संवेदना अभियान के अन्तर्गत संभाग के जन अभियान परिषद के स्वयंसेवकों एवं स्वैच्छिक संगठनों के सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि संभाग में कुपोषण, मातृ एवं शिशु मृत्यु दर की स्थिति बेहत चिंताजनक है, इसको समाप्त करने के लिए समाज के हर तबके को आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि पोषण के संबंध में सभी लोग आज भी निरक्षर है। हमें लोगों के बीच जाकर पोषण के संबंध में चर्चा करनी होगी। कुपोषण की स्थिति को कैसे समाप्त किया जा सकता है, इस पर चर्चा करनी होगी, पोषण को चर्चा का विषय बनाना होगा। संभाग का हर जन अभियान परिषद का स्वयंसेवक पोषणदूत के रूप में कार्य करें। उन्होंने कहा कि संभाग से कुपोषण, मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाना एक बड़ी चुनौती है। इस चुनौती को हम सभी को स्वीकार करना होगा, कुपोषण, मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए निरंतर प्रयास करना होगा। जन अभियान परिषद के स्वयंसेवक ऑगनबाड़ी केन्द्रों की सेवाओं को बेहतर और सशक्त बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है। स्वयंसेवक ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता की मदद कर ऑगनबाड़ी केन्द्र को और अधिक प्रभावी बना सकते है। ऑगनबाड़ी केन्द्रों की सेवाएं बेहतर होना चाहिए। उन्होंने समाजसेवी संगठनों एवं जन अभियान परिषद के स्वयंसेवको से कहा कि कोई ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता समझाने के बाद भी नहीं मानती तो ऐसी स्थिति में उसकी शिकायत परियोजना अधिकारी, जिला योजना अधिकारी, संबंधित जिले के कलेक्टर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से भी कर सकते हैं। बैठक में जन अभियान परिषद के संभागीय समन्वयक रवीन्द्र वर्मन ने बताया कि संभाग में 236 स्वयंसेवी संस्थाएं सक्रिय रूप से कार्य कर रही है तथा 3216 जन अभियान परिषद के स्वयं सेवक टीकाकरण, पौधरोपण में सहयोग का कार्य कर रहे हैं। बैठक में संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग कण्डवाल, जिला समन्वयक शहडोल विवेक पाण्डेय, जिला समन्वयक अनूपपुर उमेश पाण्डेय, जिला समन्वयक उमरिया शिवशंकर शर्मा, ब्लाक समन्वयक प्रिया सिंह बघेल, रवीन्द्र शुक्ल एवं अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं के सदस्य उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश

अन्य खबरें

No stories found.