नाच-गाने और भीड़ को रोकने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, दो घायल

 नाच-गाने और भीड़ को रोकने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, दो घायल
villagers-attacked-police-for-dancing-and-singing-two-injured

09/05/2021 गुना 9 मई (हि.स.) । ग्रामीण इलाकों में बढ़ते कोरोना को देखते हुए प्रशासन ने शादियों को प्रतिबंधित कर दिया है, लेकिन ग्रामीण अभी भी नहीं मान रहे। शनिवार रात एक शादी में उपस्थित भीड़ को हटाने गए पुलिस के अमले पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। इसमें दो आरक्षक घायल हो गए। सिरसी थाना प्रभारी देवराज सिंह ने बताया कि सुचना मिली थी कि करनावटा गांव में शादी समारोह में 200 से ज्यादा आए हुए हैं। डीजे पर नाच -गाना चल रहा है। इस पर पुलिस टीम वहां पहुंची। वहां मौके पर 200 से ज्यादा लोग मौजूद थे। एक ही परिवार में दो लड़कियों की बारात आई थी। एक बारात राजस्थान और दूसरी पास के ही गांव से आई थी। शादी में भीड़ इकठ्ठा कर पंगत भी कराई गई। साथ ही डीजे कार्यक्रम भी था। दोनों पर काफी तेज आवाज में गाने चल रहे थे और बारात निकल रही थी। ग्रामीणों ने कर दिया हमला जब पुलिस की टीम ने उन्हें समझाइश दी, तो ग्रामीणों ने पुलिस पार्टी पर ही हमला कर दिया। पुलिस की गाडी पर भी हमला कर दिया। इसमें आरक्षक अजय व अमन समेत एक दीवान भगवन सिंह यादव को चोटें आई। पुलिसकर्मियों ने खेतों में भागकर जान बचाई। घायल दीवान को उसी गांव के एक व्यक्ति ने वाहन से पुलिस के ड्राइवर समेत मऊ के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। पुलिस ने 7 नामजद समेत 20 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया है। सिरसी थाने में आईपीसी के धारा 353, 188, 269, 270 के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया गया है। पुलिस पर हमले की जिले में यह दूसरी घटना है। कुछ दिन पूर्व मृगवास थाने के तहत भी शादी को रोकने गई पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक