Update .. Special Investigation Team reached Chaira Manpur and Baghini police station and collected evidence of poisonous liquor scandal
Update .. Special Investigation Team reached Chaira Manpur and Baghini police station and collected evidence of poisonous liquor scandal
मध्य-प्रदेश

अपडेट.. विशेष जांच दल ने छैरा मानपुर व बागचीनी थाना पहुंचकर जुटाए जहरीली शराब कांड के साक्ष्य

news

मुरैना, 14 जनवरी (हि.स.)। मुरैना जिले में जहरीली शराब पीने से हुई 24 लोगों की मौत के मामले में राज्य शासन द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशन में गठित तीन सदस्यीय विशेष उच्च स्तरीय जांच दल (एसआईटी) ने गुरुवार को मुरैना सर्किट हाउस पर पहुंचकर अधिकारियों से घटना संबंधी फीडबैक लिया। इसके बाद जौरा विकासखंड के ग्राम छैरा, मानपुर पहुंचकर घटना स्थल का मौका मुआयना किया। तीन सदस्यीय दल में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा जांच दल के अध्यक्ष हैं, सदस्य के रूप में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अ.अ.वि. ए सांई मनोहर और उप पुलिस महानिरीक्षक ट्रेनिंग मिथलेश शुक्ला हैं। जांच दल ने ग्वालियर चंबल संभाग के कमिश्नर के साथ ग्राम छैरा, मानपुर में पहुचंकर पीडित परिवारों से चर्चा की और परिवारों की पारिवारिक स्थिति की जानकारी ली। अपर मुख्य सचिव राजौरा ने ग्रामीणों से अवैध शराब के विक्रय के बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की और साक्ष्य जुटाये। इस अवसर पर चंबल रेंज के पुलिस महानिरीक्षक, मनोज शर्मा, नवागत पुलिस अधीक्षक सुनील पांडे, अपर आयुक्त आशीष कुमार चौहान, अपर कलेक्टर, एसडीएम सहित राजस्व एवं पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा ने बताया कि मुरैना जिले मे जहरीली शराब पीने से लगभग 24 लोगों की मृत्यु हो गई है। हमारी टीम ने मानपुर का भ्रमण किया और इसके बाद छैरा भी जायेंगे। हम सभी दस्तावेजों का अध्ययन कर रहे हैं। अभी कुछ भी निष्कर्ष निकालना संभव नहीं है। इस पर विस्तृत रिपोर्ट बनेगी और कौन दोषी थे, घटना किन परिस्थितियों में हुई, सुधार के लिये सिस्टम में और क्या परिवर्तन की आवश्यकता हैं जिससे घटना की पुनरावृत्ति न हो। सभी तथ्यों की बारीकी से जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि घटना के संबंध में विक्रय की जाने वाली अवैध शराब के संबंध में ग्रामीणजन अपना अभिमत देना चाहते हैं वे हमें गोपनीय तरीके से सर्किट हाउस पर दे सकते हैं। उनका नाम एवं बताये गये शब्द आदि को गोपनीय रखा जायेगा। राज्य शासन को यह रिपोर्ट तीन दिवस में भेजी जायेगी। इसके पूर्व जांच दल ने ग्राम मानपुर में मृतक सरनाम पुत्र अमर सिंह, दीपेश पुत्र प्रकाश सहित अन्य परिजनों से रूबरू होकर चर्चा की। ग्रामीणों ने बताया कि अभी तक ग्राम मानपुर में 14 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इस पर जांच दल ने गांव के आसपास खेतों में अवैध रूप से पाई गई अवैध शराब के साक्ष्य अधिकारियों के माध्यम से एकत्रित किये एवं ग्राम छैरा के समीप सरसों के खेत में अवैध रूप से करीबन डेढ लाख रूपये की अवैध शराब की जानकारी आईजी मनोज शर्मा से संकलित की। इसके बाद जांच दल ने थाना बागचीनी, सुमावली पर पहुंचकर विधानसभा उपनिर्वाचन में शराब जप्ती के लोगों की जानकारी का अवलोकन किया एवं साक्ष्य एकत्रित किये। जांच दल के अध्यक्ष राजेश राजौरा ने ग्रामीणों से कहा कि जो भी पीडित व्यक्ति अवैध शराब से घर में है और वह छुपाने की कोशिश कर रहा है वो अपनी बात चिकित्सक दल को अवश्य बताये चिकित्सक दल आठ गांवों में बैठकर लोगों का चेकअप कर रहे हैं जो व्यक्ति ऐसे हों जिन्होंने शराब का सेवन किया वे अपनी जांच अवश्य करा लें। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश/राजू-hindusthansamachar.in