there-will-be-a-60-hour-lockdown-in-the-urban-area-of-dewas-on-april-9-at-6-pm
there-will-be-a-60-hour-lockdown-in-the-urban-area-of-dewas-on-april-9-at-6-pm
मध्य-प्रदेश

देवास के शहरी क्षेत्र में 09 अप्रैल को शाम 6 बजे रहेगा 60 घंटे का लॉकडाउन

news

-किसी भी व्यक्ति को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी, जिले के सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान पूरी तरह से रहेंगे बन्द देवास, 08 अप्रैल (हि.स.)। देवास जिले के शहरी क्षेत्र में शुक्रवार 09 अप्रैल 2021 को सायं 6.00 बजे से सोमवार 12 अप्रैल 2021 को प्रात: 6.00 बजे तक यानी कुल 60 घंटे का "लॉक डाउन" घोषित किया गया है। इस दौरान सभी प्रकार के परिवहन प्रतिबंधित रहेंगे। यह जानकारी कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी चंद्रमौली शुक्ला ने गुरुवार कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत कलेक्टर कार्यालय हुई बैठक में दी। उन्होंने लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं तथा जिलेवासियों से लॉक डाउन में सहयोग की अपील की है। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवदयाल सिंह, जिला पंचायत सीईओ प्रकाश सिंह चौहान, एडीएम महेंद्रसिंह कवचे, एएसपी मनजीत सिंह चावला, एसडीएम प्रदीप सोनी, सीएसपी विवेक सिंह चौहान, डीएसपी ट्रेफिक किरण शर्मा, सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा, सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों, जनपद पंचायत सीईओ तथा नगर परिषदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सहभागिता की। बैठक कलेक्टर शुक्ला ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने एवं आमजन के स्वास्थ्य, सुरक्षा और आंशकित संकट से बचाव करने तथा क्षेत्र की शांति, सुरक्षा और कानून-व्यवस्था बनाए रखने की दृष्टि दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए सम्पूर्ण देवास जिले की राजस्व सीमाओं के तहत् निषेधाज्ञा जारी है, जिसके अनुसार संपूर्ण देवास जिले के शहरी क्षेत्र में शुक्रवार, 09 अप्रैल 2021 को सायं 6.00 बजे से सोमवार 12 अप्रैल 2021 को प्रात: 6 बजे तक का "लॉक डाउन" घोषित किया गया है। उन्होंने निर्देश दिए इस दौरान किसी भी व्यक्ति को अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। देवास जिले की समस्त भौगौलिक सीमाएं, आवागमन हेतु प्रतिबंधित रहेगी। जिले के सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान पूरी तरह से बन्द रहेंगे। इन प्रतिष्ठानों में अस्पताल, मेडिकल स्टोर, दूध, सब्जियों व अन्य खाद्य सामग्री की दुकानें चालू रहेंगी। औद्योगिक इकाईयां चालू रहेंगी, लेबर चालू रहेंगी, लेकिन उन्हें आईडी कार्ड दिखाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। जिले में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सभी गतिविधियां पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगी। उन्होंने बताया कि प्रति शनिवार एवं रविवार को जिले के समस्त शासकीय और अद्र्धशासकीय कार्यालय पूर्णत: बंद रहेंगे तथा अन्य कार्य दिवस में कार्यालय प्रात: 10 बजे से सायं 6 बजे तक ही खुले रहेंगे। कोरोना संकमण से प्रभावित व्यक्तियों को स्थानीय/शासकीय चिकित्सक एवं प्रशासन द्वारा निर्धारित चिकित्सीय व्यवस्था एवं समस्त दिशा निर्देशों का पालन करना आवश्यक होगा। उन्हें इलाज की अवधि में शासन द्वारा निर्धारित आइसोलेशन या क्वारेनटाइन में रहकर चिकित्सीय परामर्श का अनुपालन करना होगा। कोविड-19, अर्थात कोरोना वाइरस से संक्रमित व्यक्ति या ऐसा व्यक्ति, जिसमें संक्रमण के लक्षण हैं, वह या उसका परिवार अपना पता एवं वांछित जानकारी संबंधित चिकित्सा अधिकारी को उपलब्ध करायेगा, ताकि उसके इलाज की समुचित व्यवस्था की जा सके। संक्रमित मरीज पास के थाने में भी सूचना दे सकते हैं। संक्रमित मरीजों के घर के सामने क्वारेंटाइन के दौरान एक सफेद लाइन खींचेंगे, जिससे सभी लोगों को इसकी जानकारी मिल सकेगी। संक्रमित मरीज से सभी दूरी बनाकर रख सके। जो भी व्यक्ति लॉक डाउन एवं कोविड-19 की गाइड लाइन का उल्लंघन करते हुए पाया गया तो दंडात्मक कार्रवाई करेंगे। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवदयाल सिंह ने कहा कि कोरोना की जंग हम सब को मिलकर लडऩा हैं। सभी जिलेवासी जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं नगर निगम की टीम का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि अनावश्यक रूप से विवाद की स्थिति निर्मित न करें। उन्होंने निर्देश दिए कि जो भी व्यक्ति कोविड-19 एवं लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए पाया गया तो उस पर दंडात्मक कार्रवाई करेंगे। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जिले का पुलिस बल लगातार मॉनिटरिंग कर सक्रिय भूमिका से कार्य करें तथा उसकी रिपोर्ट भी प्रस्तुत करें। बैठक में कलेक्टर शुक्ला ने निर्देश दिए कि जिले में भूतड़ी अमावस्या पर नेमावर एवं अन्य स्थलों पर आयोजित होने वाला मेले पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। उन्होंने निर्देश दिए कि जिले के समस्त स्थानीय पार्क एवं पर्यटन स्थल आदि बंद रहेंगे। धार्मिक स्थल दर्शनार्थियों के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे उन्हें खोलने, बंद करने, प्रार्थना, उपासना आदि हेतु सम्बन्धित पुजारी/इमाम/ पादरी/ज्ञानी/ आदि को आवागमन की अनुमति होगी। समस्त माल एवं माल में संचालित समस्त दुकानें, आउटलेट, शोरूम आदि बंद रहेंगे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश