the-hindu-jagran-manch-is-upset-with-the-lopsided-functioning-of-the-police-in-the-case-of-love-jihad-memorandum-submitted
the-hindu-jagran-manch-is-upset-with-the-lopsided-functioning-of-the-police-in-the-case-of-love-jihad-memorandum-submitted
मध्य-प्रदेश

लव जिहाद के मामले में पुलिस की लचर कार्यप्रणाली से हिंदू जागरण मंच खफा, सौंपा ज्ञापन

news

रतलाम, 19 फरवरी (हि.स.)। प्रदेश सरकार ने लव जिहाद के विरूद्ध कड़ा कानून तो बना दिया, लेकिन पुलिस द्वारा तत्परतापूर्ण कार्रवाई नहीं की जा रही है। इसके विरोध में हिंदू जागरण मंच ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर गोपालचंद डाड को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया गया कि आठवीं कक्षा में पढऩे वाली एक 13 वर्षीय बालिका को एक व्यक्ति तीन-चार दिनों से जवाहर नगर के खाली पड़े मकान में लेकर आ रहा है। यह सूचना पुलिस को दी गई, आधा घंटे बाद दरवाजा खुलने पर पीडि़त बालिका को लेकर आरोपित युवक को थाने ले जाया गया। पुलिस ने पांच घंटे तक आरोपित के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं की, तब सामाजिक संगठन केे कार्यकर्ताओं ने पीडि़त बालिका से बातचीत की तो उसने बताया कि उक्त युवक डरा-धमकाकर उसे कमरे पर ला रहा था तथा उसकेे साथ दृष्कृत्य कर रहा था।बालिका ने यह भी बताया कि उक्त युवक के अन्य साथी भी उसकी एक सहेली को डरा-धमकाकर इस मकान पर बुला रहे थे। ज्ञापन में यह आरोप लगाया कि औद्योगिक थाने में पदस्थ कुछ पुलिसकर्मियों ने रिपोर्ट लिखने के बजाए पीडि़त बालिका पर दबाव बनाया कि रिपोर्ट लिखने से आरोपित का तो कुछ नहीं बिगड़ेगा, तुम्हारी बदनामी होगी। पीडि़त बालिका के माता-पिता पर भी इसी प्रकार का दबाव बनाया। पुलिस द्वारा आनाकानी किए जाने के बाद सामाजिक संगठनों के दबाव पर छ: घंटे बाद रिपोर्ट लिखी गई। इतना ही नहीं जिस बालक ने पुलिस को यह सूचना दी, उसके साथ भी 11 फरवरी की रात्रि को मारपीट की,जिसकी रिपोर्ट भी पुलिस ने नहीं लिखी। इसी प्रकार कुछ ही दिनों पूर्व हुई एक घटना में समाज विशेष के ही युवक के मोबाइल केे फोन में कई लड़कियों केे अश्लील फोटो एवं वीडियो पाए गए थे। पुलिस केे संज्ञान में यह मामला आने के बाद भी पुलिस ने आरोपित केे खिलाफ कोई गंभीर कार्रवाई नहीं की। ज्ञापन में मंच केे जिलाध्यक्ष राजेश कटारिया तथा अन्य कार्यकर्ताओं ने बताया कि शहर में कुछ ऐसे गिरोह सक्रिय हैं, जो नाबालिग बच्चों के माध्यम से अवैध वसूली करते हैं। करीब एक माह पूर्व शहर में दुष्कर्म की एक ऐसी ही घटना हुई थी। जैसेे ही दुष्कर्म की घटना हुई गिरोह सक्रिय हुआ और आरोपी से दस लाख रुपये की मांग की गई। इन गिरोह के शिकार कई लड़केे डर से न तो रिपोर्ट कर पाते हैं और न ही किसी को घटना की जानकारी देते है। ज्ञापन में मांग की गई कि शहर के बाहरी क्षेत्रों मेें कई कैफे संचालित है यह कैैफे लव जिहाद के केंद्र बन चुके हैं। इन कैफों से केेबीन हटाया जाए, अनिवार्य रुप से कैमरे लगाए जाए तथा रात्रि 10 बजेे बाद इन कैफों को बंद किया जाए। ज्ञापन में पुलिस प्रशासन से मांग की गई कि ऐसे तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए, निगरानी की जाए और पुलिस को सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए जाए। ज्ञापन देते समय मनोहर पडिय़ार, कैलाश यादव, सिद्धार्थ पंड्या सहित अनेक कार्यकर्ता सहित काफी संख्या में महिलाएं भी उपस्थित थी। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी