the-decree-of-the-higher-education-department-the-students-will-have-to-tell-whether-they-got-the-vaccine-or-not
the-decree-of-the-higher-education-department-the-students-will-have-to-tell-whether-they-got-the-vaccine-or-not
मध्य-प्रदेश

उच्च शिक्षा विभाग का फरमान, विद्यार्थियों को बताना होगा कि उन्होने वैक्सीन लगवाई या नहीं?

news

भोपाल, 28 जून (हि.स.)। प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों के कुलपति और प्राचार्यो को उच्च शिक्षा विभाग द्वारा एक पत्र जारी किया गया है। उसमें निर्देश दिए गए हैं कि शासकीय एवं निजी कालेजों के प्राचार्य और प्राध्यापक यह तय करें कि उनके यहां अध्ययनरत विद्यार्थियों ने कोरोनारोधी वैक्सीन लगवाई है या नहीं ? वैक्सीन कोवीशिल्ड लगवाई है या को-वैक्सीन। पहला डोज लगवाया है या दूसरा? इस कार्य में प्राचार्यो की जवाबदेही तय की गई है। उच्च शिक्षा विभाग के ओएसडी डॉ.धीरेंद्र शुक्ल द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि-कॉलेज के सभी नियमित एवं स्वाध्यायी विद्यार्थियों की वैक्सीनेशन संबंधी जानकारी अद्यतन करें। इसके लिए कॉलेज में अध्ययनरत/पंजीकृत विद्यार्थियों को निर्देश दें। वे अपने एसआईएस लॉगिंग के द्वारा अपने वैक्सीनेशन संबंधी जानकारी से अवगत करवाएंगे। इसके लिए प्राध्यापक विद्यार्थियों के व्हाट्सएप नम्बर पर,मोबाइल नम्बर पर एसएमएस करके जानकारी देने के लिए प्रोत्साहित करें। इसीप्रकार फेसबुक,दूरभाष एवं समाचार पत्रों में समाचार देकर भी प्रोत्साहित करें। यह करना है विद्यार्थियों को कॉलेज के नियमित/स्वाध्यायी विद्यार्थियों को अपने विश्वविद्यालय के पोर्टल को ओपन करना है। इस पर लॉगिंग करके अनिवार्यत: नीचे लिखी जानकारी पोर्टल पर ही देना है,जो इसप्रकार है- 1.कोविड-19 वैक्सीनेशन हुआ या नहीं। 2.कोविशील्ड लगवाई या को-वैक्सीन। 3.पहला डोज लगाया दूसरा डोज। इसके बाद सबमिट के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना है। हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल