the-crooks-caught-before-robbing-the-petrol-pump
the-crooks-caught-before-robbing-the-petrol-pump
मध्य-प्रदेश

पेट्रोल पंप लूटने से पहले ही पकड़ाए बदमाश

news

गुना, 08 जून (हि.स.)। पेट्रोल पंप को लूटने से पहले ही बदमाश पुलिस पकड़ में आ गए। मामला जिले के कैन्ट थानातंर्गत सामने आया है। जिसमें लूट की योजना बनाते हुए पुलिस ने चार बदमाशों को पुलिस ने पकड़ लिया है, वहीं एक फरार हो गया। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने बदमाशों से हथियार भी बरामद किया है। साथ ही वह किसी पेट्रोल पंप को लूटने की योजना बना रहे थे? इसको लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। रेलवे अंडरब्रिज के नीचे बैठकर बना रहे थे योजना एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने मंगलवार को बताया कि बीती रात पुलिस को सूचना मिली थी कि बमौरी बुजुर्ग से ग्राम सिंघाड़ी के बीच के कच्चे रास्ते पर बने रेलवे अंडरब्रिज के नीचे कुछ हथियारबंद बदमाश छिपे हुए है। जिस पर कैन्ट थाना प्रभारी निरीक्षक अवनीत शर्मा के नेतृत्व में एक टीम गठित कर बदमाशों पर कार्यवाही हेतु रवाना की गई। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो बदमाश किसी पेट्रोल पंप को लूटने की योजना बना रहे थे। इसी दौरान पुलिस ने दबिश देकर चार बदमाशों को पकड़ लिया, वहीं एक अंधेरे का लाभ उठाकर भाग गया। इन बदमाशों को पकड़ पकड़ में आए बदमाशों ने अपने नाम उपेन्द्र पुत्र भोटा उर्फ दशरथ रजक, जीतू उर्फ गंजा उर्फ जितेन्द्र पुत्र कैलाश जाटव निवासी ग्राम सकतपुर, गोलू उर्फ सुदामा पुत्र रामबाबू कुशवाह एवं अनिल पुत्र सुरेश कोरी गुना के होना बताये एवं भागने वाले बदमाश का नाम छोटू यादव निवासी ग्राम बड़ागांव हाल पुरानी छावनी गुना का बताया। बदमाशों से पुलिस ने लोहे का नुकीले दांतों वाला एक फरसा, एक बका, एक बड़ा हंसिया, एक तलवार आदि हथियार जब्त किए गए हैं। चोरी की दो मोटरसाइकल भी बरामद इसके साथ ही बदमाशों के पास दो मोटर सायकलें जिनमें एक हीरो स्प्लेण्डर मोटर सायकल क्रमांक एमपी 08 ई 6456 एवं दूसरी बिना नंबर की हीरो डीलक्स मोटर सायकल, जिसका नंबर जांचने पर एमपी 08 एमआर 8237 भी बरामद की गईं है। आरोपितों से मिली दोंनो मोटर सायकलों के बारे में पूछताछ करने पर उनके द्वारा एक म्याना थाना क्षेत्र से तो दूसरी धरनावदा थाना क्षेत्र से चोरी करना बताया। उपरोक्त पांचों बदमाशों के विरूद्ध थाना केंट में अप0क्र0 594/21 धारा 399, 400, 402 भादवि एवं 25(2) आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण पंजीवद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक