teachers-could-not-show-their-skills-even-by-opening-books-could-not-get-70-per-cent-marks
teachers-could-not-show-their-skills-even-by-opening-books-could-not-get-70-per-cent-marks
मध्य-प्रदेश

किताबें खोलकर भी अपनी दक्षता नहीं दिखा सकें शिक्षक, नहीं पा सके 70 फीसदी अंक

news

199 में 75 फेल, अनुपस्थिति पर 5 और 50 प्रतिशत से कम अंक पाने वाले 9 शिक्षकों को नोटिस अनूपपुर, 31 जनवरी (हि.स.)। शिक्षकों की दक्षता व विद्वता के आधार पर विद्यार्थियों ने चुनौतियों को पार कर सफलता हासिल की है और मंजिल की बुलंदियों को छुआ है, लेकिन दक्षता के आधार पर बच्चों का भविष्य तैयार करने वाले शिक्षक अब अपने ही दक्षता आंकलन में मात खाते नजर आ रहे हैं। हाल के दिनों में लोक शिक्षण संचालनालय भोपाल द्वारा आयोजित दक्षता आंकलन परीक्षा में जिले के 216 शिक्षकों में 75 शिक्षक अपनी दक्षता आंकलन में सही जवाब दे सके। दो दिवसीय आयोजित परीक्षा में मात्र 134 शिक्षक सफल हो सके। जिसे देखते हुए अब उच्च शिक्षण संचालनालय ने ऐसे असफल शिक्षकों को नोटिस जारी कर कारण पूछा है और आगामी दक्षता परीक्षा में बैठने के निर्देश दिए हैं। विभागीय जानकारी के अनुसार लोक शिक्षण संचालनालय भोपाल द्वारा दक्षता परीक्षा का आयोजन 3 एवं 4 जनवरी को किया गया था। आयोजित हुए दक्षता परीक्षा में बोर्ड परीक्षा में 40 प्रतिशत से कम अंक वाले शासकीय हाई एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों से 10 शिक्षक को परीक्षा के लिए आमंत्रित किया गया था। जबकि उच्च माध्यमिक/ माध्यमिक शिक्षक एवं कैंचमेंट के माध्यमिक स्कूलों के 206 प्राधानाध्यापक/ शिक्षक को शामिल होना प्रस्तावित किया गया। लेकिन इनमें 199 प्राधानाध्यापक/ शिक्षक दक्षता आकंलन परीक्षा में सम्मिलित हुए। वहीं परीक्षा से 5 शिक्षक/ शिक्षिका अनुपस्थित रहे। दक्षता के आए परिणाम में शासकीय हाई एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों से सभी10 शिक्षकों ने 70 प्रतिशत से उपर अंक प्राप्त किया, जबकि माध्यमिक स्कूलों के लिए 4 जनवरी को आयोजित परीक्षा में शामिल 199 प्राधानाध्यापक/ शिक्षक में से 124 प्राधानाध्यापक/ शिक्षक 70 प्रतिशत से उपर अंक प्राप्त कर सफल हुए। शेष 66 शिक्षक 70 प्रतिशत से कम परिणाम प्राप्त किया। फिर भी संचानालय ने इन्हे ऑनलाईन प्रशिक्षण के लिए सुविधा प्रदान की है। वहीं 9 शिक्षक 50 प्रतिशत या इससे कम अंक प्राप्त किए हैं। अनुपस्थिति पर 5 और कम अंक पर 9 शिक्षकों को नोटिस शनिवार की शाम दक्षता परीक्षा से गायब 5 शिक्षकों सहित 50 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले 9 शिक्षकों को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। साथ ही पूछा गया है कि वह कहां थे और इतने कम अंक कैसे आए। साथ ही अपने विषय में सुधार कर 2 माह का समय दिया है। और आगामी मार्च माह के दौरान पुन:दक्षता परीक्षा में सम्मिलित होने के निर्देश दिए हैं। वहीं अनुपस्थित शिक्षकों के लिए 24 जनवरी को परीक्षा आयोजित की गई है। जिसमें चार उपस्थित एक अनुपस्थित रहे। बताया जाता है कि शिक्षकों को दक्षता परीक्षा के दौरान विषयवार पुस्तक साथ लेकर आने के निर्देश थे और परीक्षा कक्ष में पुस्तक से उत्तर ढूढ़ कर लिखने के शासन द्वारा निर्देशित किया गया था। बावजूद शिक्षक पुस्तक के सहयोग के बाद भी 70 प्रतिशत से एवं 50 प्रतिशत से कम अंक हासिल किए। परिणामों के बाद यह बात चर्चा का विषय बन गया है कि जो शिक्षक किताबें खोलकर परीक्षा पास नहीं कर सकता, वैसे शिक्षक बिना पर्चा व किताबों के आयोजित होने वाली बोर्ड परीक्षा की तैयारी किस आधार पर करा सकेगा। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला-hindusthansamachar.in