टाटा कंपनी ने तेज की खुदाई की रफ्तार

टाटा कंपनी ने तेज की खुदाई की रफ्तार
tata-company-accelerates-digging-speed

उज्जैन, 26 अप्रैल (हि.स.)। पिछले तीन सालों से सीवरेज लाइन डालने का काम कर रही टाटा कंपनी की रफ्तार काफी धीमी बनी हुई थी जो इन दिनों काफी तेज दिखाई दे रही है। जो काम दो माह पहले 8 से 10 दिनों में कंपनी द्वारा किया जा रहा था वह अब 24 से 36 घंटे में पूरा किया जा रहा है। टाटा कंपनी के इंजीनियरों द्वारा इन दिनों लॉकडाउन के चलते सड़कों पर सन्नाटा पसरा होने के चलते अपने कार्य की रफ्तार तेज कर दी है। काम करने वाले कर्मचारियों ने बताया कि इन दिनों सड़कों पर आवागमन बिल्कुल नहीं है जिसके चलते काम करने में आसानी हो रही है। अत्याधुनिक मशीनों के साथ खुदाई की जा रही है और तत्काल ही सीवरेज के पाइप डालकर उन्हें बंद किया जा रहा है। शहर के अधिकांश क्षेत्रों में इसी रफ्तार के साथ कंपनी द्वारा काम को पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं। शहर के अधिकांश हिस्सों में कार्य पूरा हो चुका है, अब पुराने शहर के ही कुछ हिस्सों में सीवरेज लाइन डालने का काम शेष बचा है जिसे संभवत: आगामी कुछ माह में ही पूरा कर लिया जाएगा। सड़क दुर्घटनाओं में भी आई कमी टाटा कंपनी की धीमी रफ्तार के चलते दो माह पूर्व तक सड़क दुर्घटनाओं के मामले भी प्रतिदिन होना सामने आ रहे थे। जिसकी वजह खुदाई के बाद कंपनी द्वारा कई दिनों तक भराव और मिट्टी नहीं हटाना बनी हुई थी। लेकिन इन दिनों जिस रफ्तार से कार्य चल रहा है और लॉकडाउन लगा हुआ है दुर्घटनाओं का ग्राफ भी काफी कम हो चुका है। टाटा कंपनी द्वारा लॉकडाउन का पूरा फायदा उठाने का प्रयास किया जा रहा है। हिंदूस्थान समाचार/गजेंद्र सिंह तोमर