जीजी मो से दूर रहियो, कोरोना चिपक जायगो

जीजी मो से दूर रहियो, कोरोना चिपक जायगो
stay-away-from-gg-mo-corona-stick

29/04/2021 गुना 29 अप्रैल (हि.स.) । जीजी मो से दूर रहियो, कोरोना चिपक जायगो। गोले में खड़े रहियो, बारी आए तक पानी भरियो। इस तरह की बातचीत नयागांव में स्थित एक हैंडपंप पर सुनने को मिली। यहां ननद, भौजाई पानी भर रही थी तो गांव की दो-तीन महिलाएं और पुरुष थोड़ी दूर बने गोले में खड़े होकर अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे थे। जब ननद-भौजाई पानी भरके हटी तो वह एक-एक करके हैंडपंप पर पहुँचे। ऐसे ही दृश्य अन्य गांवों में देखने मिल रहे हैं। गांवों तक पहुंचा संक्रमण कोरोना वायरस संक्रमण शहर से निकलकर अब ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँच गया है। रोज जो जांच रिपोर्ट प्राप्त हो रहीं हैं, उनमें निकलने वाले संक्रमितों की तादाद शहर से ज्यादा ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की होती है। इसी के मद्देनजर प्रशासन की चिंता बढ़ी हुई है और यहां संक्रमण की गति को थामने के लिए तमाम तरह के प्रयास किए जा रहे हैं। गांवों में भी कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है तो जागरुकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। बनाए जा रहे क्वारंटाइन सेंटर ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण के मामले बढऩे के बाद यहां स्वास्थ्य सेवाएं भी जुटाई जा रही है। इसी तारतम्य में गांव-गांव तक क्वारंटाइन सेंटर बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही आइसोलेशन वार्ड के साथ कोविड केयर सेंटर भी तैयार किए जा रहे हैं। पनवाडीहाट में बालक अनुसूचित जाति छात्रावास, देवरी में उप स्वास्थ्य केंद्र एवं मिडिल स्कूल देवरी को कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। बरखेडाहाट में मिडिल स्कूल बरखेडाहाट, शहरोक में हाईस्कूल शहरोक तथा मूडरामाता में मिडिल स्कूल मूडरामाता को कोविड केयर सेंटर बनाकर सभी व्यवस्थाएं की गई हैं। इस तरह अन्य ब्लॉक के गांवों में सेंटर बनाए जा रहे हैं। जहां मरीजों को भर्ती कर उनका उपचार किया जा रहा है। चिकित्सा के साथ जागरुकता से लगेगी लगाम कोरोना संक्रमण की गति पर लगाम चिकित्सा के साथ ही जागरुकता से लगाई जा सकती है। इसी के मद्देनजर प्रशासन ने अब अपना ध्यान ग्रामीण क्षेत्रों पर भी केन्द्रित किया है। गांवों में कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। जिसका सख्ती से पालन ग्राम पंचायतों के माध्यम से कराया जा रहा है। इसके साथ ही गांवों में नुक्कड़ नाटक, दीवार लेखन आदि जैसे जागरुकता कार्यक्रम भी चलाए जा रहे हैं।लोगों को प्रशिक्षित कर उनसे भी सहयोग लिया जा रहा है। सबसे ज्यादा जोर मास्क पहनने और सामाजिक दूरी अपनाने पर दिया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक