restrictive-order-should-be-strictly-adhered-to-collector
restrictive-order-should-be-strictly-adhered-to-collector
मध्य-प्रदेश

प्रतिबंधात्मक आदेश का सख्ती से हो पालनः कलेक्टर

news

कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन ना करने वाले व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को करें सील कटनी, 03 अप्रैल (हि.स.)। कोविड-19 को लेकर जारी किये गये प्रतिबंधात्मक आदेशों का सख्ती से पालन करायें। यह स्पष्ट निर्देश कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने रेपिड रिस्पॉन्स टीम के सभी मेम्बर्स को दिये। दरअसल, शनिवार को आरआरटी की बैठक हुई, जिसमें कलेक्टर के साथ ही पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने भी टीम मेम्बर्स को निर्देशित किया। बैठक में कलेक्टर मिश्रा ने कहा कि यह कोविड-19 की सेकेण्ड वेव है। सतर्कता ही बचाव है। इसके मद्धेनजर ही जिले में प्रतिबंधात्मक आदेश में गतदिवस ही तीन और प्रतिबंध जोड़े गये हैं। इन प्रतिबंधों का पालन हो, मास्क और सोशल डिस्टेन्सिंग फॉलो की जाये, इसकी सतत् रुप से मॉनीटरिंग करें। शहरी क्षेत्र के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी आरआरटी का महत्वपूर्ण रोल है। सभी आरआरटी सक्रियता के साथ कार्य करें, मुस्तैद रहें, लोगों को जागरुक करें और कोविड-19 के प्रोटोकॉल फॉलो ना करने वालों के खिलाफ कार्यवाही भी। कलेक्टर ने बताया कि जहां भी कोविड-19 पॉजीटिव पेशेन्ट निकलें, वहां स्वास्थ्य की टीम स्टीकर लगाये, नगर निगम और आरआर टीम इसमें सहयोग करे और वहां अनाउन्समेन्ट करें। एैसे क्षेत्रों के आस-पास मॉनीटरिंग भी बढ़ायें। आरआर टीम को मास्क और सोशल डिस्टेन्स का पालन कराने के आदेश भी कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि एैसे व्यवसायिक प्रतिष्ठान जहां पर कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन ना हो रहा हो, दुकान के सामने सोशल डिस्टेन्स के लिये गोले ना लगाये गये हों, दुकानदार और ग्राहकों द्वारा मास्क का उपयोग भी ना किया जा रहा हो, उन प्रतिष्ठानों को कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन ना करने पर पहली बार चौबीस घंटे के लिये सील करें। यदि कोई सील करने के बाद भी सील तोड़ने का प्रयास करे, तो उस पर 188 के तहत कार्यवाही भी करें। ग्रामीण क्षेत्रों के लिये भी आरआर टीम की बैठक में कलेक्टर और एसपी ने विस्तार से निर्देश दिये। उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोई गांव कोरोना का हॉटस्पॉट ना बनें, इसके लिये संवेदनशीलता के साथ काम करें। माईग्रेन्ट लेबर पर नजर रखें। बाहर से गांव में आ रही माईग्रेन्ट लेबर का कोविड-19 सैम्पल करायें। इस कार्य में ग्राम पंचायतों द्वारा संधारित किये गये माईग्रेशन रजिस्टर का उपयोग करें। बस स्टैण्ड पर भी मॉनीटरिंग कड़ी करने के निर्देश क्षेत्रीय आरआर टीम को कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा क बस स्टेण्ड एवं बसों में रेण्डमली चैक कर यह सुनिश्चित करें कि वहां मास्क अनिवार्य रुप से लगाया जा रहा हो। पुलिस अधीक्षक अवस्थी ने भी सतर्क होकर मुस्तैदी से काम करने के निर्देश आरआर टीम को दिये। उन्होने कहा कि कोविड-19 के प्रति सतर्कता ही बचाव है। लोगों में जागरुकता भी लायें। प्रतिबंधात्मक आदेश का सख्ती से पालन करायें। बैठक के पूर्व में सीईओ जिला पंचायत एवं अपर कलेक्टर जगदीश चन्द्र गोमे ने भी आरआर टीम को उनकी जिम्मेदारियों और किस तरह कार्य किया जाये, इस विषय में जानकारी दी। इस दौरान एडिशनल एसपी संदीप मिश्रा, एसडीएम बहोरीबंद रोहित सिसोनिया, एसडीएम कटनी बलबीर रमन, एसडीएम विजयराघवगढ़ प्रिया चन्द्रावत, डिप्टी कलेक्टर संघमित्रा गौतम सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी, थाना प्रभारी भी मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / उमेद