ratlam-division-0801-percent-more-revenue-than-the-previous-target-of-goods-loading
ratlam-division-0801-percent-more-revenue-than-the-previous-target-of-goods-loading
मध्य-प्रदेश

रतलाम मंडलः माल लदान से पिछले लक्ष्य से 08.01 प्रतिशत अधिक राजस्व प्राप्त

news

रतलाम, 04 अप्रैल(हि.स.)। पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल का वाणिज्य विभाग वर्ष 2020-21 में कोविड-19 महामारी के दौरान लॉकडाउन होने के बावजूद मुख्यायल द्वारा दिए गए विभिन्न क्षेत्रों में राजस्व प्राप्ति के वार्षिक लक्ष्यों को सफलता पूर्वक हासिल किया है। मंडल रेल प्रवक्ता जितेन्द्र कुमार जयंत ने रविवार को बताया कि रतलाम मंडल के मंडल रेल प्रबंधक के सफल मार्गदर्शन एवं वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक के निर्देशन में वाणिज्य विभाग के अधिकारियों, पर्यवेक्षकों एवं कर्मचारियों के अथक श्रम से रतलाम मंडल का वाणिज्य विभाग अपने लक्ष्यों को हासिल करने में सफलता प्राप्त की है। इतना ही नहीं कुछ मदों में मंडल ने पिछले वर्ष के राजस्व प्राप्ति को भी पीछे छोड़ दिया है। कोविड-19 के दौरान इस प्रकार की उपलब्धि मंडल के मील का पत्थर साबित होगा तथा अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा विपरित परिस्थितियों में अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए कार्य के प्रति समर्पण की भावना भविष्य में आने वाली आपदाओं के लिए एक उदाहरण बनेगा। वर्ष 2020-21 के लिए माल लदान से वार्षिक राजस्व का लक्ष्य 1403.33 करोड़ था तथा मंडल को वास्तविक राजस्व 1515.77 करोड़ हुआ जो वार्षिक लक्ष्य से 08.01 प्रतिशत अधिक है, साथ ही पिछले साल प्राप्त राजस्व 1209.18 करोड़ से 306.59 करोड़ अधिक है। इसी प्रकार यात्रीभाड़ा राजस्व का वार्षिक लक्ष्य 114.46 करोड़ तथा प्राप्त राजस्व 125.32 करोड़ जो लक्ष्य से 9.49 प्रतिशत अधिक, अन्य कोचिंग राजस्व का वार्षिक लक्ष्य 11.42 करोड, वास्तविक राजस्व प्राप्त 27.28 करोड़ जो लक्ष्य से 138.88 प्रतिशत अधिक, पार्सल एवं लगेज राजस्व का वार्षिक लक्ष्य 9.64 करोड़, प्राप्त राजस्व 18.82 करोड़ जो लक्ष्य से 95.23 प्रतिशत अधिक इसमें किसान रेल से प्राप्त राजस्व का विशेष योगदान है, गैर यात्री किराया कॉमर्शियल पब्लिसिटी राजस्व का वार्षिक लक्ष्य 1.63 करोड़ तथा वास्तविक राजस्व 1.74 करोड़ प्राप्त हुआ जो लक्ष्य से 6.75 प्रतिशत अधिक है, पार्किंग राजस्व का लक्ष्य 0.06 करोड़, वास्तविक प्राप्त राजस्व 0.15 करोड़ जो लक्ष्य से 150 प्रतिशत अधिक है, टिकट चेकिंग का वार्षिक राजस्व का लक्ष्य 0.12 करोड, वास्तविक प्राप्त राजस्व 0.95 करोड, जो लक्ष्य से 691.67 प्रतिशत अधिक है। इस प्रकार वर्ष 2020-21 में वाणिज्य विभाग का कुल राजस्व का लक्ष्य 1529.21 करोड़ था तथा वास्तविक कुल 1668.36 करोड़ का राजस्व वाणिज्य विभाग को प्राप्त हुआ जो वार्षिक लक्ष्य से 09.10 प्रतिशत अधिक है। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी