Rain alert, hailstorm and dense fog likely in 37 districts of the state in the coming 48 hours
Rain alert, hailstorm and dense fog likely in 37 districts of the state in the coming 48 hours
मध्य-प्रदेश

आने वाले 48 घंटों में प्रदेश के 37 जिलों में बारिश का अलर्ट, ओलावृष्टि और घना कोहरे की संभावना

news

भोपाल, 09 जनवरी (हि.स.)। मध्य प्रदेश में मौसम ने एक बार फिर करवट ली है। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के अधिकांश इलाकों में बारिश की बौछारे गिरने से मौसम खुशनुमा हो गया है। राजधानी भोपाल में शुक्रवार रात से रिमझिम बारिश का दौर शुरू हुआ जो शनिवार सुबह तक जारी है। आसमान में बादल छाने और बारिश के कारण मौसम में ठंडक घुल गई है। मौसम विभाग के अनुसार अभी दो-तीन दिन यही स्थिति रहेगी, इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ और अरब सागर से आने वाली हवा के साथ नमी का आना बंद होने के बाद बादल हट जाएंगे। इसके बाद दोबारा ठंड का असर शुरू होगा। मकर संक्रांति के आस पास ठंड का असर तेज हो सकता है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं के कारण मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में बादल छाए हुए हैं और कोहरा पड़ रहा है। पश्चिमी विक्षोभ वेस्ट अफगानिस्तान के ऊपर बुना हुआ है। यह सिस्टम चक्रवातीय रूप लेना शुरू कर चुका है। वहीं दक्षिण-पूर्वी अरब सागर में एक अन्य चक्रवात सक्रिय है। इसके कारण अरब सागर के दक्षिणी छोर से आने वाली हवा में नमी है। इन्हीं दो मौसमी सिस्टम का मध्य प्रदेश के मौसम पर भी प्रभाव पड़ रहा है। जिसके कारण प्रदेश में छाए बादलों से बारिश, ओलावृष्टि और घना कोहरे की संभावना बन रही है और आने वाले 48 घंटों में प्रदेश के कई जिलों में बारिश हो सकती है। साथ ही कुछ जिलों में ओलावृष्टि की भी संभावना जताई गई है, जिसके कारण प्रदेश में आने वाले दो से तीन दिनों में ठंड जोर पकड़ सकती है। इन जिलों में बारिश के आसार मौसम विभाग ने आने वाले 48 घंटों में प्रदेश के जिन जिलों में बारिश की संभावना जताई है उनमें इंदौर संभाग के बड़वानी, धार, इंदौर , झाबुआ, खरगौन, खंडवा, बुरहानपुर, उज्जैन संभाग के उज्जैन, देवास, आगर-मालवा, शाजापुर, रतलाम, मंदसौर, नीमच, होशंगाबाद संभाग के होशंगाबाद, हरदा और बैतूल, ग्वालियर संभाग के अशोकनगर, गुना, ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, चंबल संभाग के श्योपुर, मुरैना, भिंड के साथ ही रायसेन, सीहोर, सिवनी, जबलपुर, छिंदवाड़ा, दमोह, सागर, टीकमगढ़, छतरपुर, उमरिया और शहडोल जिले शामिल हैं। यहां गिर सकते हैं ओले मौसम विभाग ने प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश के साथ ओलावृष्टि की भी संभावना जताई है। जिनमें भोपाल, राजगढ़, रायसेन, विदिशा, सीहोर, बड़वानी, बुरहानपुर, धार, इंदौर , झाबुआ, खरगौन, खंडवा, बुरहानपुर में ओले गिरने की संभावना है। इन जिलों में रहेगा घना कोहरा मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले दो दिनों में घना कोहरा भी छाया रह सकता है। अशोकनगर, गुना, ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर, मुरैना, भिंड, उज्जैन, देवास, आगर-मालवा, शाजापुर, रतलाम, मंदसौर, नीमच, टीकमगढ़, छतरपुर, दमोह, पन्ना, सागर, निवाड़ी, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, भोपाल और राजगढ़ जिले में मध्य से घना कोहरा रहने की संभावना है। इस समय मध्य प्रदेश के अधिकांश भागों में न्यूनतम तापमान सामान्य से काफी ऊपर चल रहे हैं। न्यूनतम तापमान में गिरावट 11 या 12 जनवरी से देखने को मिलेगी उस समय 2 या 3 डिग्री की गिरावट होगी। हालांकि तापमान में गिरावट के बावजूद अब मध्य प्रदेश के किसी भी भाग में शीतलहर आने की संभावना दिखाई नहीं दे रही है। 2 दिनों के बाद दिन में तेज धूप रहेगी। परंतु सर्दी का एहसास सर्द हवाओं के कारण बना रहेगा। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in