public-awareness-campaign-will-be-run-continuously-to-make-traffic-in-indore
public-awareness-campaign-will-be-run-continuously-to-make-traffic-in-indore
मध्य-प्रदेश

इंदौर में यातायात को सुगम बनाने के लिये निरंतर चलेगा जन-जागरूकता अभियान

news

अनियंत्रित तथा तेज गति से वाहन चलाने और सड़क किनारे बेतरतीब तरीके से वाहन खड़े करने पर होगी कार्रवाई इंदौर, 25 फरवरी (हि.स.)। इंदौर जिले में यातायात को सुगम बनाने के लिये नागरिकों विशेषकर युवाओं को जागरूक बनाने के लिये निरंतर जन-जागरूकता अभियान चलाया जायेगा। इसमें हर वर्ग की भागीदारी को सुनिश्चित करते हुये जन आंदोलन का रूप दिया जायेगा। साथ ही यातायात सुधार के लिये आधारभूत संरचनाओं की निर्माण के साथ ही आवश्यकता के अनुसार उसमें सुधार कार्य भी कराये जायेंगे। अनियंत्रित तथा तेज गति से वाहन और सड़क किनारे बेतरतीब तरीके से वाहन खड़े करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी। स्पीड नियंत्रण के लिये स्पीड गवर्नर और ब्रिथ इनेलाइजर का उपयोग भी सुनिश्चित किया जायेगा। जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक अब हर माह आयोजित की जायेगी। यह जानकारी गुरुवार को सांसद शंकर लालवानी की उपस्थिति में सम्पन्न हुई जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में दी गई। बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी मनीष कपूरिया, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी जितेन्द्र रघुवंशी, एडीएम हिमांशु चंद्र सहित यातायात, नगर निगम, पीडब्लूडी, नगर एवं ग्राम निवेश सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में यातायात को सुव्यवस्थित एवं सुगम बनाने के संबंध में विभिन्न महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये। बैठक में तय किया गया कि यातायात नियमों के संबंध में जन जागरूकता के लिए अब अभियान निरंतर चलाया जायेगा। इस अभियान में समाज के हर वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी। जिस तरह से समाज की भागीदारी से इंदौर स्वच्छता में अव्वल आया है। उसी तरह यातायात में भी इंदौर को अव्वल लाने के प्रयास किए जायेंगे। सांसद लालवानी ने कहा कि इंदौर में अनियंत्रित तथा तेज गति से वाहन चलाने से दुर्घटनाएं होना दुखद और चिंताजनक है। इसके निवारण के लिये समन्वित प्रयास किये जाये। उन्होंने कहा कि दुर्घटनाएं रोकने के लिये आवश्यकता के अनुसार एहतियात के रूप में आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित किये जाये। सड़क किनारे बेतरतीब तरीके से वाहन खड़े करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई हो। कलेक्टर मनीष सिंह ने बैठक में कहा कि इंदौर में यातायात सुधार के लिये हर संभव प्रयास किये जायेंगे। आवश्यकता के अनुसार सिंग्नल लगवाये जायेंगे तथा स्पीड ब्रेकर बनवाये जायेंगे। जहां स्पीड ब्रेकर बने हुये है, वहां संकेतक लगाने के निर्देश उन्होंने दिये। उन्होंने कहा कि ब्लेक स्पॉट को चिन्हित कर वहां सुधार कार्य करवाये जायेंगे। उन्होंने जन-जागरूकता के लिये यातायात पार्क को दुरस्त करने के निर्देश नगर निगम के अधिकारियों को दिये। बैठक में डीआईजी मनीष कपूरिया ने कहा कि जन-जागरूकता अभियान प्रभावी रूप से आयोजित किया जायेगा। स्पीड नियंत्रण के लिये स्पीड गवर्नर और ब्रिथ इनेलाइजर का उपयोग भी सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नियमों का उल्लघंन करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश