pm-modi39s-decision-on-vaccination-and-distribution-of-free-ration-historic-shivraj
pm-modi39s-decision-on-vaccination-and-distribution-of-free-ration-historic-shivraj
मध्य-प्रदेश

पीएम मोदी का टीकाकरण और नि:शुल्क राशन वितरण संबंधी निर्णय ऐतिहासिक : शिवराज

news

मंत्रि-परिषद की बैठक के पहले मुख्यमंत्री चौहान ने किया संबोधित भोपाल, 08 जून (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारत सरकार द्वारा कोविड टीकाकरण कराने और गरीबों को दीपावली तक नि:शुल्क राशन वितरण का निर्णय लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार माना है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि यह ऐतिहासिक निर्णय है। इससे प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में टीकाकरण अभियान में एकरूपता और गति आएगी। उक्त बातें मुख्यमंत्री चौहान ने मंगलवार को मंत्रालय में कैबिनेट की बैठक के पहले मंत्रि-परिषद के सदस्यों को संबोधित करते हुए कही। बैठक वंदे-मातरम के गान के साथ आरंभ हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के निर्णय अनुसार 18 से 44 वर्ष आयु समूह का केन्द्र सरकार की ओर से नि:शुल्क टीकाकरण होगा। साथ ही सम्पूर्ण टीकाकरण अभियान का संचालन भारत सरकार द्वारा किया जाएगा। राज्यों को उनकी जनसंख्या और आवश्यकता के अनुपात में उपलब्धता के आधार पर वैक्सीन मिलती रहेंगी। इससे टीकाकरण का अभियान व्यवस्थित रूप से चलेगा और कार्य में गति भी आएगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का इसके लिए भी अभिनंदन है कि अब तक किसी भी नई बीमारी की वैक्सीन बनती थी तो वह देश में बनना तो दूर देश में उपलब्ध ही नहीं होती थी, परंतु प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हमारे वैज्ञानिकों के सतत प्रयासों से स्वदेशी वैक्सीन भारत को प्राप्त हुई। चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा गरीबों की चिंता की गई है। भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अतंर्गत अब नवम्बर तक मुफ्त राशन दिया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रि-परिषद और प्रदेशवासियों की ओर से प्रधानमंत्री मोदी को इन निर्णयों के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ग्रीष्मकालीन मूँग के दामों में लगातार हो रही गिरावट को देखते हुए समर्थन मूल्य पर मूँग खरीदने का निर्णय लिया गया है। आज 8 जून से पंजीयन का कार्य भी आरंभ हो रहा है। किसानों के लिए यह महत्वपूर्ण फैसला है। कृषि मंत्री कमल पटेल ने प्रदेश के किसानों की ओर से मुख्यमंत्री चौहान का आभार माना। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल को लेकर गतिरोध भी समाप्त हो गया है। कोविड संक्रमण के संकट के मध्य जूनियर डॉक्टरों से हुई बातचीत के परिणाम स्वरूप वे काम पर वापिस आ गए हैं। यह एक सार्थक कदम है। चौहान ने प्रदेश में कोविड पर नियंत्रण के लिए क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों, जन-प्रतिनिधियों, विधायकों, सांसदों द्वारा किए गए निरंतर प्रयासों के लिए उनका आभार माना। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों ने जिस धैर्य और संयम के साथ कोविड की स्थिति का सामना किया उसके लिए मैं प्रदेशवासियों का आभारी हूँ। हिन्दुस्थान समाचार / उमेद