प्रशासन ने पशुपतिनाथ ट्रस्ट की करोड़ों भूमि को संरक्षण में लिया
प्रशासन ने पशुपतिनाथ ट्रस्ट की करोड़ों भूमि को संरक्षण में लिया
मध्य-प्रदेश

प्रशासन ने पशुपतिनाथ ट्रस्ट की करोड़ों भूमि को संरक्षण में लिया

news

मंदसौर, 01 अगस्त (हि.स.)। मंदसौर जिला मुख्यालय स्थित प्रसिद्ध पशुपतिनाथ ट्रस्ट में दान की गई बस स्टेण्ड स्थित करोड़ों रुपये की जमीन को मंदिर ट्रस्ट को दिलवाने के लिए सांसद सुधीर गुप्ता लगातार प्रयासरत थे और यह प्रयास अब रंग भी ला रहे हैं। सांसद गुप्ता ने पहले मुख्यमंत्री से मुलाकात कर और फिर कलेक्टर मनेाज पुष्प को उक्त जमीन को अपने संरक्षण में लेने के लिए पत्र लिखा था, जिसके बाद प्रशासन ने उक्त भूमि पर तार फेसिंग का कार्य पूर्ण कर अपने संरक्षण में लिया है। इसी को लेकर शनिवार को सांसद सुधीर गुप्ता, कलेक्टर मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी, नपाध्यक्ष राम कोटवानी, तहसीलदार नारायण नादेड़ा सहित ट्रस्ट के सदस्यों ने भूमि का निरीक्षण किया। इसी के साथ ही सभी ने नयापुरा रोड़ स्थित ट्रस्ट की भूमि और पशुपतिनाथ मंदिर का भी निरीक्षण किया। सांसद गुप्ता ने भूमि पर विकास कार्य की रूपरेखा बनाने के लिए उपस्थित सभी से चर्चा की। उन्होंने बताया कि वर्षों पूर्व बस स्टेण्ड स्थित रामतीर्थ कचरमल ब्राह्मण द्वारा मंदिर पशुपतिनाथ मंदिर ट्रस्ट को दान दी गई लगभग साढे 3 बीघा जमीन जिसकी बाजार में कीमत ढाई सौ करोड़ रुपये आंकी गई है, वहां पर जमीन कब्जे से मुक्त कराकर भगवान पशुपतिनाथ मंदिर ने अपने संरक्षण में लिया है। यहां पर विकास की रूपरेखा तैयार कर व्यवसायिक निर्माण कार्य करवाया जाएं ताकि मंदिर की आमदनी को बढ़ाया जा सके। इस पर कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा पार्किंग निर्माण का सुझाव दिया गया। जिस पर सभी की सहमति भी बनी। इसके पश्चात उपस्थित सभी ने पशुपतिनाथ मंदिर में चल रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण किया। सांसद सुधीर गुप्ता द्वारा खिलचीपुरा के लिए हाईवे से अलग मार्ग बनाने का सुझाव दिया। वहीं मंदिर के समीप ट्रस्ट की भूमि पर डेवलपमेंट की बात कहीं। मंदिर के समीप नवीन गार्डन का निर्माण करने की बात कहीं। इसी के साथ ही आगामी दिनों में शहर विकास को लेकर एक वृहद बैठक आयोजित की जाएगी जिसमें इन सभी विषयों पर विस्तृत चर्चा की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार, अशोक झलौया-hindusthansamachar.in