200 करोड़ की लागत से बने मेडिकल कॉलेज में मरीजों के लिए पानी की व्यवस्था नहीं
no-water-system-for-patients-in-medical-college-built-at-a-cost-of-200-crores

200 करोड़ की लागत से बने मेडिकल कॉलेज में मरीजों के लिए पानी की व्यवस्था नहीं

शिवपुरी, 27 अप्रैल (हि.स.)। शिवपुरी के मेडिकल कॉलेज का निर्माण लगभग 200 करोड़ रुपए की लागत से हुआ है लेकिन आनन-फानन में शुरू किए गए इस मेडिकल कॉलेज में मंगलवार को कोरोना के भर्ती मरीजों को पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं थी। करीब 15 दिन पहले शुरू हुए शिवपुरी के मेडिकल कॉलेज में कोरोना रोगी और उनके परिजनों के लिए पीने के पानी की कोई व्यवस्था नहीं है जबकि करोड़ों के बजट से बनाए गए इस कॉलेज में उक्त व्यवस्थाएं होना चाहिए। कोरोना काल में इस मेडिकल कॉलेज में जो कोरोना आईसीयू और आइसोलेशन वार्ड अस्पताल शुरू हुए हैं। यहां कोविड मरीजों के लिए आईसीयू की भी व्यवस्था है लेकिन मरीज़ और उनके सहायकों के लिए पीने के पानी की कोई व्यवस्था नहीं है। इसलिये मंगलवार को मरीज़ों ने पीने के पानी के लिए हो हल्ला शुरू कर दिया। यह जानकारी जब महल कॉलोनी के पूर्व पार्षद आकाश शर्मा को लगी तो उन्होंने तुरंत अपनी कार से 25 पेटी बिसलरी की बोतलें भिजवाई। आकाश शर्मा ने बताया कि उन्हें कुछ लोगों ने बताया कि यहां पर पानी की कमी है तो उन्होंने स्वयं व फिजिकल पुलिस थाना प्रभारी की गाड़ी से यहां पर पीने के पानी की बोतलें भिजवाईं। हिन्दुस्थान समाचार/ रंजीत गुप्ता

No stories found.