no-admission-in-classes-without-masks
no-admission-in-classes-without-masks
मध्य-प्रदेश

बिना मास्क के कक्षाओ में नहीं मिल रहा प्रवेश

news

गुना, 05 अप्रैल (हि.स.)। जिले के हाईस्कूल और हायरसेकंडरी स्कूलों में परीक्षा परिणाम सुधारने के लिए छुट्टी के दिन भी कक्षाएं संचालित की जा रही हैं। इस दौरान बच्चों को बिना मास्क के प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। इसको लेकर डीईओ ने दिशा निर्देश जारी किए हैं कि स्कूलों में बच्चों को मास्क के बिना प्रवेश नहीं दिया जाए। साथ ही अभिभावकों से अपील की है कि वह छात्रों मास्क पहनाकर ही स्कूल भेजे। साथ ही कोरोना के बढ़ते संकट को देखते हुए स्कूलों में पढ़ाई के समय कोविड गाइड लाइन का पालन किया जा रहा है। थर्मल स्क्रीनिंग कर ही छात्रों को कक्षाओं में प्रवेश दिया जा रहा है। शिक्षकों को हर रोज कक्षाएं संचालित करने के लिए डीईओ प्रेरित करते नजर आ रहे हैं। हाईस्कूल और हायरसेकंडरी की अर्धवार्षिक परीक्षा में कई स्कूलों के परीक्षा परिणाम 40 फीसद से नीचे रहा, तो डीईओ ने छुट्टी के दिन भी कक्षाएं संचालित करने के निर्देश जारी कर दिए। कक्षाओं में शिक्षक छात्रों को पहले कोरोना गाइड लाइन का पालन करने को लेकर पाठ पढ़ा रहे है। उसके बाद गणित और अंग्रेजी की कक्षाएं संचालित की जा रहीं है। गौरतलब है कि कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने पिछले दिनों बैठक लेकर प्राचार्यों से कहा कि आप जैसे अपने बच्चों को शिक्षा देते है, वैसी शिक्षा सरकारी स्कूल में पढऩे वाले छात्रों को दें, जिससे स्कूल के परीक्षा परिणाम में सुधार होगा। हालांकि उन्होंने भी कोविड गाइड लाइन का पालन कराने को लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए हैं। इनका कहना हाईस्कूल और हायरसेकंडरी के परीक्षा परिणाम सुधारने को लेकर अवकाश के दिनों में भी अतिरिक्त कक्षाएं स्कूलों में लग रही है। अभिभावकों से अपील की है कि मास्क के बिना छात्रों को स्कूल नहीं भेजे। शिक्षक भी कोविड गाइड लाइन का पालन कर शिक्षा दे रहे हैं। डीईओ, अशोक पंवार हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक