म.प्र. राज्य कर्मचारी संघ ने की शिक्षकों को कोरोना योद्धा घोषित करने की मांग

म.प्र. राज्य कर्मचारी संघ ने की शिक्षकों को कोरोना योद्धा घोषित करने की  मांग
mp-state-employees-union-demands-teachers-to-be-declared-corona-warriors

दतिया 28 अप्रैल (हि.स)। मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ जिला शाखा दतिया ने कोरोना ड्यूटी पर तैनात शिक्षकों को कोरोना योद्धा का दर्जा दिये जाने की मांग प्रदेश सरकार से की है। राज्य कर्मचारी संघ द्वारा शासन से मांग करते हुए कहा गया है कि कोरोना महामारी के दौरान शिक्षक क्वारेंटाइन निगरानी टीम, कोरोना कंट्रोल रुम, कोरोना चेक पोस्ट से लेकर जहां-जहां शासकीय सेवकों की आवश्यकता है ,वहां पर अपनी सेवाएं लगन, मेहनत और ईमानदारी के साथ दे रहे हैंं। सुरक्षा की दृष्टि से पर्याप्त सामग्री उपलब्ध न होने,पेय जल तथा धूप से बचाव हेतु व्यवस्था ना होने के बाद भी बह निरंतर अपने कर्तव्य का पालन कर रहे हैं। इसके बाद भी शिक्षक संवर्ग को फ्रंट लाइन वर्कर नहीं माना जा रहा है। पत्र में कहा गया है कि सबसे अधिक संख्या में सेवा देने वाले शिक्षक ही हैं और अब तक प्रदेश में सैकड़ों शिक्षकों की इस महामारी से मौत हो चुकी है। इसके बाद भी शिक्षक संवर्ग के साथ भेदभाव किया जा रहा है जबकि राज्य शासन द्वारा अनुबंधित दैनिक वेतन भोगी से लेकर आंगनवाडी कार्यकर्ता, संविदा के आधार पर कार्यरत कर्मचारी, रोजगार सहायक,आऊट सोर्स कर्मी तक को कोरोना -19 योद्धा कल्याण योजना में पात्र घोषित किया गया है। हिन्दुस्तान समाचार/संतोष तिवारी