श्रावण सोमवार: भगवान महाकाल का हुआ विशेष श्रृंगार, शाम को निकलेगी चौथी सवारी
श्रावण सोमवार: भगवान महाकाल का हुआ विशेष श्रृंगार, शाम को निकलेगी चौथी सवारी
मध्य-प्रदेश

श्रावण सोमवार: भगवान महाकाल का हुआ विशेष श्रृंगार, शाम को निकलेगी चौथी सवारी

news

श्रद्धालुओं से घर पर ही रहकर लाईव दर्शन का अनुरोध उज्जैन, 27 जुलाई (हि.स.)। उज्जैन स्थित विश्व प्रसद्धि ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर का श्रावण के चौथे सोमवार को विशेष श्रृंगार किया। इस दौरान केवल सीमित संख्या में श्रद्धालुओं ने भगवान के दर्शन किये। वहीं, बाबा महाकाल की चौथी सवारी आज (सोमवार) शाम 4 बजे महाकाल मन्दिर से परिवर्तित मार्ग से निकाली जायेगी। कलेक्टर एवं महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष आशीष सिंह ने श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर वे सवारी देखने के लिये घरों से बाहर न निकलें। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए सभी श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि वे घरों में ही रहकर भगवान महाकाल की सवारी का दर्शन लाभ लें। रविवार को पूरा शहर लॉकडाउन रहने के कारण लोग अपने घरों में रहे, लेकिन सोमवार को सुबह बाजार खुलने पर चहल-पहल देखी गई। सुबह भगवान महाकाल के दर्शन करने भी काफी लोग पहुंचे। हालांकि, कोरोना के चलते मंदिर में सीमित श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया गया। सुबह साढ़े पांच बजे भगवान महाकाल की भस्मारती हुई। इसके बाद भगवान महाकाल का विशेष श्रृंगार किया गया। वहीं, शाम को चार बजे महाकाल मंदिर से भगवान महाकाल की चौथी सवारी निकाली जाएगी। इस दौरान राजाधिराज महाकाल चांदी की पालकी में मनमहेश और हाथी पर चंद्रमौलेश्वर रूप में सवार होकर नगर भ्रमण के लिए निकलेंगे। महाकाल मंदिर समिति के सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते भीड़ नियंत्रण के लिए सवारी में अन्य मुखारविंद को शामिल नहीं किया जाएगा। इस बार भी महाकाल की सवारी परिवर्तित मार्ग से निकाली जाएगी। परिवर्तित मार्ग अनुसार भगवान महाकालेश्वर की सवारी महाकाल मन्दिर से बड़ा गणेश मन्दिर होते हुए हरसिद्धि मन्दिर चौराहा पहुंचेगी। यहां से झालरिया मठ और बालमुकुंद आश्रम होते हुए सवारी रामघाट पर पहुंचेगी। रामघाट पर पूजन-अर्चन के पश्चात सवारी रामानुजकोट, हरसिद्धि की पाल होते हुए हरसिद्धि मन्दिर मार्ग, बड़ा गणेश मन्दिर के सामने से होती हुई पुन: महाकालेश्वर मन्दिर पहुंचेगी। सवारी का लाईव प्रसारण विभिन्न चैनलों द्वारा किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने दी श्रावण की शुभकामनाएं इधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार को सोशल मीडिया के माध्यम से प्रदेशवासियों को श्रावण की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने एक श्योक ट्वीट किया है कि -‘ मंदारपुष्प बहुपुष्प सुपूजिताय तस्मे म काराय नम: शिवाय:॥ श्री नीलकंठाय वृषभद्धजाय तस्मै शि काराय नम: शिवाय:॥’ मुख्यमंत्री ने आगे लिखा है कि ‘मंगलदायी श्रावण मास के चतुर्थ सोमवार की हार्दिक बधाई! देवों के देव महादेव की असीम कृपा से आपका घर धन-धान्य, वैभव, खुशहाली से सदैव भरा रहे, यही प्रार्थना!’ हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश तोमर-hindusthansamachar.in