मंदसौर: मौत का तांडव जारी, मुक्तिधाम लग रही अंतिम संस्कार के लिए कतार

मंदसौर: मौत का तांडव जारी, मुक्तिधाम लग रही अंतिम संस्कार के लिए कतार
mandsaur-orgy-of-death-continues-queues-for-muktidham39s-funeral

28/04/2021 मंदसौर 28 अप्रैल (हिस)। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए मंदसौर में पिछले 12 दिनों से लाॅकडाउन लगा हुआ है लेकिन कोरोना का कहर कम नहीं हो रहा है। कोरोना के कहर से रोज 15 से 20 मौते हो रही हैं। शमशान घाट में जहां 10 से 14 शवों का रोज कोविड नियमों के तहत अंतिम संस्कार हो रहा है तो ऐसी ही स्थिति कब्रिस्तान की भी है। बुधवार को भी शाम तक 14 शवों का अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकाॅल के तहत किया गया। नगर के मुक्तिधाम की स्थिति यह है कि शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए वेटिंग लग रही है। मुख्य मुक्तिधाम पर तो स्थान ही नहीं मिल रहा है जिसके कारण साईड में नदी किनारे शवों का दाह संस्कार किया जा रहा है। बुधवार को अन्नक्षेत्र एवं मुक्तिधाम ट्रस्ट मंदसौर के मुनिम (अकाउटेंट) रमेश शर्मा का कोरोना के चलते निधन हो गया वे लगातार कोरोना काल में अपनी सेवाएं दे रहे थे। जिसके कारण वे भी कोरोना की चपेट में आ गये और बुधवार को उनका निधन हो गया। वहीं युवा भाजपा नेता राॅकी यादव के पिता का भी कोरोना के चलते निधन हो गया। लकड़ी के लिए दान देने अनेक लोग आगे आए अन्नक्षेत्र न्यास कमेटी द्वारा मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार के समय लकड़ी के लिए जो ऐच्छिक राशि की रसीद काटी जाती है यह व्यवस्था निःशुल्क कर दी गई है। जो भी अंतिम संस्कार वहां किया जाएगा तो लकड़ी के लिए उन्हें रसीद कटाने की आवश्यकता नहीं होगी। अन्नक्षेत्र न्यास कमेटी के इस निर्णय के परिप्रेक्ष्य में अनेक दानदाता आगे आए हैं और और अन्नक्षेत्र न्यास कमेटी को मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार की लकड़ी के लिए दान की घोषणा की है। इस क्रम में आपकी सेवा हमारा सौभाग्य सस्था ने 7500 कन्डे, राजेश ज्ञानचंद पामेचा ने 1 ट्राली लकडी, एमकेसी इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड सीतामऊ ने 4 डंपर लकड़ी, सुशील गुप्ता ने 1 ट्राली, बोल बम सेवा समिति पिपलियामंडी ने 2 ट्राली लकड़ी देने की घोषणा की है। इसी प्रकार इस निमित्त 5 हजार रु नरेन्द्र नरसिंहप्रसाद शर्मा, नटवर विट्ठलदास पारिख ने 500 रू. की ओर दान राशि दी गई। 51 हजार व 11 हजार राशि गुप्तदान दाताओं द्वारा भी प्रदान की गई है। इधर, कंडे बनाने के कार्य में भी आई तेजी मुक्तिधाम में शवों के बढ़ने के साथ - साथ कंडों की खपत भी बढ़ गई है। जिसके लिए कंडे निर्माता भी सक्रिय हो गये और प्रतिदिन तेजी से कंडे बनाने में लग गये हैं। कंडों के निर्माताओं का कहना है कि हमेें भी इसके माध्यम से सेवा करने का मौका मिला है हम भी सिर्फ लागत मूल्य पर ही कंडे बेच रहे है। मुक्तिधाम क्षेत्र को किया सेनेटाइज्ड मुक्तिधाम क्षेत्र में रोज कोरोना मृतकों के शव पहुंच रहे हैं। ऐसे में बुधवार की सुबह नगर पालिका द्वारा पूरे मुक्तिधाम क्षेत्र में सेनेटाइजर का छिड़काव करवाया गया। हिन्दुस्थान समाचार / अशोक झलौया