सोनागिर में तीन अगस्त को होगा संतों का वात्सल्य महामिलन
सोनागिर में तीन अगस्त को होगा संतों का वात्सल्य महामिलन
मध्य-प्रदेश

सोनागिर में तीन अगस्त को होगा संतों का वात्सल्य महामिलन

news

ग्वालियर, 31 जुलाई (हि.स.)। आगामी तीन अगस्त को सोनागिर सिद्धक्षेत्र की भट्टाराक कोठी में एक नया इतिहास रचा जाएगा। यहां क्रांतिवीर मुनि प्रतीक सागर जी महाराज के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में रक्षाबंधन का पर्व वात्सल्य दिवस महोत्सव के रूप में ऐतिहासिक रूप से मिलन कर मनाया जाएगा। चातुर्मास समिति के प्रचार मंत्री सचिन जैन ने शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि वात्सल्य महोत्सव को ऐतिहासिक बनाने के लिए नरेश जैन डबरा आशीष जैन डबरा अजीत जैन शिवपुरी को कार्यक्रम का संयोजक बनाया गया है। रक्षाबंधन के पावन पर्व पर कई संत संघों का होगा वात्सल्य मिलन होगा। कार्यक्रम के संयोजक मंडल ने बताया कि मुनि प्रतीक सागर जी सभी संतों की अगवानी करेंगे। तीन अगस्त को प्रात: 9.30 बजे सोनागिर में विराजमान सभी आचार्य संघ मुनिराज, आर्यिका जी, ऐलक जी, क्षुल्लक जी का सामूहिक आहार चर्या भट्टाराक कोठी में होगी। तत्पश्चात दोपहर 1.30 बजे से वात्सल्य दिवस महोत्सव पर विशेष धार्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम का प्रारंभ बालक बालिकाओं द्वारा नृत्य मंगलाचरण से होगा। गणधराचार्य आचार्य पुष्पदंत सागर महाराज के चित्र का अनावरण, दीप प्रज्वलन, कंपन आचार्य आदि 700 मुनिराज की संगीत में महापूजन 700 श्रीफल चढ़ाकर, सभी आचार्य मुनिराजों के पादप्रक्षालन, शास्त्र भेंट, संतों की पिच्छिका में राजा पदमा द्वारा राखी बांधी जाएगी। सभी संतों के रक्षाबंधन पर विशेष प्रवचन, महाआरती, मुनिश्री द्वारा सभी श्रावक श्राविकाओं को रक्षासूत्र प्रदान किये जायेंगे। वहीं, शाम 5 बजे सभी भक्तों का सामूहिक वात्सल्य भोजन आदि का आयोजन किया जाएगा। मुनिश्री प्रतीक सागर महाराज ने बताया कि जैन दर्शन श्रावण शुक्ल पूर्णिमा को आकम्पनचार्य आदि 700 मुनिराज का उपसर्ग विष्णुकुमार मुनि राज ने दूर किया था, इसलिए सम्पूर्ण जैन समाज इस दिन को वात्सल्य दिवस रक्षाबंधन के रूप में मनाता है। नगर में विराजमान मुनियों को खीर का अहार दिया जाता है एवं उनकी पिंछी में रक्षा सूत्र बांधकर मुनि राज की रक्षा का संकल्प लेता है। लॉकडाउन में सरकार के नियमों का पालन करते हुए मास्क पहनकर और दो गज की दूरी के नियमों का पालन करते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। हिन्दुस्थान समाचार / श्याम / मुकेश-hindusthansamachar.in