मध्य प्रदेश में 4 अगस्त से झमाझम बारिश के आसार, मौमस विभाग ने जताई संभावना
मध्य प्रदेश में 4 अगस्त से झमाझम बारिश के आसार, मौमस विभाग ने जताई संभावना
मध्य-प्रदेश

मध्य प्रदेश में 4 अगस्त से झमाझम बारिश के आसार, मौमस विभाग ने जताई संभावना

news

भोपाल, 02 अगस्त (हि.स.)। पानी का इंतजार कर रहे प्रदेश के किसान और आम जनता के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में 4 अगस्त से अच्छी बारिश का दौर शुरू हो सकता है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में सीजन में पहली बार एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है। इसके प्रभाव से 4 अगस्त से प्रदेश में अच्छी बरसात का दौर होने की संभावना है। बारिश का सिलसिला 2-3 दिन तक चलने के आसार हैं। उधर पूरा जुलाई सूखा निकलने के बाद अगस्त माह की पहली तारीख पर शनिवार को बारिश की बौछारों ने थोड़ी राहत दी। सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक मलाजखंड में 11,रायसेन में 6,सीधी में 5,नौगांव में 3,भोपाल(शहर) में 1,ग्वालियर और होशंगाबाद में 0.6 मिमी. बारिश हुई। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक मानसून की द्रोणिका हिमालय की तराई से वापस आकर ग्वालियर से होकर गुजर रही है। इसके अतिरिक्त बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के संकेत मिले हैं। इन दो सिस्टम से 4 अगस्त से प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी। बारिश का सिलसिला 2-3 दिन तक चलने की संभावना है। 17 जिलों में सामान्य से कम बरसात प्रदेश में शनिवार सुबह 8:30 बजे तक सीजन की कुल 443.9 मिमी.बरसात हुई है। यह सामान्य(385.7 मिमी.) से 13 फीसद कम है। इसके अतिरिक्त प्रदेश के 17 जिलों में सामान्य से काफी कम बारिश हुई है। इससे खरीफ की फसलें सूखने की कगार पर पहुंच गई हैं। इन जिलों में बालाघाट, मंडला, जबलपुर, नरसिंहपुर, कटनी, दमोह, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़, गुना, शिवपुरी, ग्वालियर, भिंड,श्योपुर, मंदसोर, धार और अलीराजपुर शामिल हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in